Friday, 21 November 2014

क्‍या है मल्‍टीविटामिन गोलियों की सच्‍चाई-- 31 May 2014 at 11:31 शायद आपने देखा होगा कि आपके आस-पास या ऑफिस में कई लोग ऐसे होंगे जो लंच करने के तुरंत बाद ही अपनी मेज पर रखी मल्‍टीविटामिन की दवा का सेवन कर लेते होंगे। ऐसा भी हो सकता है कि कई बार आपके डॉक्‍टर ने भी आपको मल्‍टीविटामिन की टैबलेट किसी पोषक तत्‍व की कमी को दूर करने के लिये दी हो। बहुत से ऐसे लोग होते हैं जो टीवी पर दिखाए जाने वाले एड से प्रसन्‍न हो कर भी ये गोलियां खाना शुरु कर देते हैं। लेकिन दोस्‍तों क्‍या आप जानते हैं इतनी सारी मल्‍टीविटामिन वो भी बिना डॉक्‍टर की सलाह के खाना कितना नुकसान दायक हो सकता है। हो सकता है कि आप मल्‍टीविटामिन टैबलेट खा रहे हों और आपको कोई दिक्‍कत न महसूस हो रही हो, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि इससे आपको आगे चल कर कोई हेल्‍थ समस्‍या नहीं आएगी। इसलिये यह बहुत जरुरी है कि आप मल्‍टीविटामिन गोलियों की सच्‍चाई के बारे में अच्‍छे से जान लें। आयरन की गोली बहुत सारी आयरन की टैबलेट्स में रॉ टॉक्‍सिक पाए जाते हैं , जिसके सेवन से कब्‍ज या फिर कभी कभी पेट भी खराब हो जाता है। तो अच्‍छा होगा कि आप अपना आयरन आहार से लें न कि मल्‍टीविटामिन टैबलेट से। कैल्‍शियम टैबलेट ज्‍यादातर महिलाएं कैल्‍शियम टैबलेट्स अपनी हड्डियों को मजबूत करने के लिये खाती हैं। लेकिन यह एकस्‍ट्रा कैल्‍शियम जा कर किडनी में जम जाता है और वही स्‍टोन का रूप ले लेता है। तो अगर आपको कैल्‍शियम की एकस्‍ट्रा खुराख चाहिये तो दूध पीजिये। जिंक सप्‍पलीमेंट पुरुषों को मेल हार्मोन बढाने के लिये जिंक की आवश्‍यकता होती है। इसलिये कई पुरूषों ने जिंक की गोलियां बिना डॉक्‍टर सेपूछे लेनी शुरु कर दी हैं। लेकिन ज्‍यादा जिंक का सेवन करने से ब्‍लड प्रेशR बढ जाता है। विटामिन ई कैप्‍सूल विटामिन ई को ब्‍यूटी विटामिन कहा जाता है। विटामिन ई शरीर से बाहर नहीं निकलता और शरीर के अंदर ही इकठ्ठा होता जाता है। इसकी वजह से पेट फूलना, थकान लगना और कभी कभी आंखों की रौशनी कमजोर होना आम बात होती है।

क्‍या है मल्‍टीविटामिन गोलियों की सच्‍चाई--
31 May 2014 at 11:31
शायद आपने देखा होगा कि आपके आस-पास या ऑफिस में कई लोग ऐसे होंगे जो लंच करने के तुरंत बाद ही अपनी मेज पर रखी मल्‍टीविटामिन की दवा का सेवन कर लेते होंगे। ऐसा भी हो सकता है कि कई बार आपके डॉक्‍टर ने भी आपको मल्‍टीविटामिन की टैबलेट किसी पोषक तत्‍व की कमी को दूर करने के लिये दी हो। बहुत से ऐसे लोग होते हैं जो टीवी पर दिखाए जाने वाले एड से प्रसन्‍न हो कर भी ये गोलियां खाना शुरु कर देते हैं। लेकिन दोस्‍तों क्‍या आप जानते हैं इतनी सारी मल्‍टीविटामिन वो भी बिना डॉक्‍टर की सलाह के खाना कितना नुकसान दायक हो सकता है। हो सकता है कि आप मल्‍टीविटामिन टैबलेट खा रहे हों और आपको कोई दिक्‍कत न महसूस हो रही हो, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि इससे आपको आगे चल कर कोई हेल्‍थ समस्‍या नहीं आएगी। इसलिये यह बहुत जरुरी है कि आप मल्‍टीविटामिन गोलियों की सच्‍चाई के बारे में अच्‍छे से जान लें। आयरन की गोली बहुत सारी आयरन की टैबलेट्स में रॉ टॉक्‍सिक पाए जाते हैं , जिसके सेवन से कब्‍ज या फिर कभी कभी पेट भी खराब हो जाता है। तो अच्‍छा होगा कि आप अपना आयरन आहार से लें न कि मल्‍टीविटामिन टैबलेट से। कैल्‍शियम टैबलेट ज्‍यादातर महिलाएं कैल्‍शियम टैबलेट्स अपनी हड्डियों को मजबूत करने के लिये खाती हैं। लेकिन यह एकस्‍ट्रा कैल्‍शियम जा कर किडनी में जम जाता है और वही स्‍टोन का रूप ले लेता है। तो अगर आपको कैल्‍शियम की एकस्‍ट्रा खुराख चाहिये तो दूध पीजिये। जिंक सप्‍पलीमेंट पुरुषों को मेल हार्मोन बढाने के लिये जिंक की आवश्‍यकता होती है। इसलिये कई पुरूषों ने जिंक की गोलियां बिना डॉक्‍टर सेपूछे लेनी शुरु कर दी हैं। लेकिन ज्‍यादा जिंक का सेवन करने से ब्‍लड प्रेशR बढ जाता है। विटामिन ई कैप्‍सूल विटामिन ई को ब्‍यूटी विटामिन कहा जाता है। विटामिन ई शरीर से बाहर नहीं निकलता और शरीर के अंदर ही इकठ्ठा होता जाता है। इसकी वजह से पेट फूलना, थकान लगना और कभी कभी आंखों की रौशनी कमजोर होना आम बात होती है।

No comments:

Post a Comment