शनिवार, 20 नवंबर 2021

पेरोनीज रोग (लिंग का टेढ़ा होना), जानें इसके कारण, लक्षण और ठीक करने के उपाय-

                                    

                   

पेरोनीज रोग (लिंग का टेढ़ा होना), जानें इसके कारण, लक्षण और ठीक करने के उपाय-


पुरुषों में लिंग के टेढ़ा होने की समस्या को पेरोनीज (Peyronies) कहा जाता है। चलिए  डॉक्टर कश्यप से जानते हैं इसके लक्षण, कारण और जोखिम।

महिलाओं और पुरुषों को कई तरह के गुप्तांग रोगों से परेशान होना पड़ता है, जो यौन जीवन को बुरी तरह से प्रभावित करते हैं। पुरुषों में गुप्तांग रोगों में से एक पेरोनीस है। पेरोनीस में पुरुषों के लिंग में टेढ़ापन आ जाता है। यह बीमारी प्लेक नामक स्कार टिश्यू के कारण होता है, यह टिश्यू लिंग के अंदर बनता है। इस स्थिति में लिंग सीधा रहने के बजाय टेढ़ा हो जाता है। यह समस्या अकसर 40 साल के बाद देखने को मिलती है। 

पेरोनीस की बीमारी पुरुषो में लिंग का झुकना या टेढ़ा होना होता है। संभोग के दौरान बार-बार सूक्ष्म चोटों के कारण प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाओं  के कारण 
पेरोनीस होने की संभावना होती है ।


पेरोनीस होने पर होने वाली परेशानियाँ -

· पेरोनीस की समस्या होने पर पुरुषों को शारीरिक संबंध बनाने या संभोग करने में कठिनाई होती है।

· झुकते समय दर्द महसूस होना

· इरेक्शन  के समय लिंग में दर्द महसूस होना

 शुरुआत में इसका इलाज दवाइयो से किया जा सकता है। अगर लिंग 30 डिग्री से ज्यादा टेढ़ा हो जाता है, तो ऐसे में इंजेक्शन की आवश्यकता हो सकती है। इतना ही नहीं गंभीर लंबे समय तक चलने वाले मामलों में या तो निशान हटाने के लिए या लिंग के झुकने को ठीक करने के लिए सर्जिकल उपचार की आवश्यकता हो सकती है। कई ऐसे मामले भी सामने आते हैं, जिसमें पुरुषो का लिंग पूरी तरह से टेढ़ा हो जाता है। सर्जरी के बाद उन्हें नियमित रूप से फॉलो-अप पर रहने की जरूरत है।
 
पेरोनीस के लक्षण -

· संभोग करने में कठिनाई

· इरेक्शन के समय दर्द होना या लिंग का मुड़ना या झुकना

· लिंग में दर्द होना

· सूजन होना

· लिंग का मुड़ना

· लिंग का लचीलापन कम होना

· इरेक्शन के बाद लिंग का सामान्य से छोटा दिखाई देना

· लिंग में गांठ महसूस होना





पेरोनीस के कारण-

वैसे तो पेरोनीस के कोई स्पष्ट कारण नहीं है, लेकिन कई ऐसे कारक है, जो लिंग के टेढ़ापन का कारण बन सकते हैं।

1 -   लिंग के ऊत्तको में चोट लगने पर अकसर पेरोनीज की समस्या देखने को मिलती है। दरअसल, ऊत्तको में चोट लगने की वजह से लिंग के अंदर रक्तस्त्राव हो जाता है। जो धीरे-धीरे लिंग के टेढ़ापन का कारण बन सकता है।

2 - अगर किसी के पिता को यह समस्या है, तो उसके बेटे को भी पेरोनीज नामक समस्या हो सकती है। यह आनुवंशिक भी हो सकता है।

3 - इतना ही नहीं पेरोनीस की समस्या दवाओ के साइड इफेक्ट के कारण भी हो सकता है । इसलिए दवाओ का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहियें।

4 - कई बार शारीरिक संबंध बनाते समय गलती करने पर भी लिंग में टेड़ेपन की समस्या आ जाती है।
 
पेरोनीस के जोखिम कारक -

· धूम्रपान की लत या आदत

· डायबिटीज

· हाइपरटेंशन

· कनेक्टिव टिश्यू डिसऑर्डर

· लिंग में चोट लगना


पेरोनीस के बचाव टिप्स -

पेरोनीस की समस्या से बचने के लिए आपको कुछ जरूरी बातो पर ध्यान देना चाहिए।

1- शारीरिक संबंध बनाते समय सावधानी बरतना।

2 - लिंग की चोट को नजरअंदाज न करना। चोट लगने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना।

3- यह अकसर बढ़ी उम्र में होता है, इसलिए बढ़ती उम्र की वजह से होने वाली समस्या को रोकने के लिए अच्छी डाइट लेना।

4-   धूम्रपान की लत को छोड़ना जरूरी है।

5- अगर आप शारीरिक रूप से थके हुए है, तो संभोग करने से बचें।

अगर आपको भी पेरोनीस से जुड़ा कोई लक्षण नजर आए, तो इसे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत होती है। शुरुआत में इसे दवाइयो से ठीक किया जा सकता है, लेकिन समस्या बढ़ने पर इंजेक्शन या सर्जरी करवानी पड़ती है।









टेस्टोस्टोरोन (सेक्स हॉर्मोन ) की कमी से पुरुषों में दिखते हैं ये लक्षण, न करें इन्हें नज़रअंदाज़

टेस्टोस्टोरोन (सेक्स हॉर्मोन) की कमी से पुरुषों में दिखते हैं ये लक्षण, न करें इन्हें नज़रअंदाज़ उम्र बढ़ने के साथ-साथ अक्सर पुरुषों में टेस्ट...