Saturday, 30 March 2019

शादी टूटने की प्रमुख कारण सेक्स प्रॉब्लम भी है ।


 

जानें डॉ. बी. के. कश्यप से  क्या है इसका समाधान-  

 

हमेशा से विवाह टूटने का अहम कारण अंसतुष्ट वैवाहिक जीवन या खराब सेक्स लाइफ होता हैं और इसका प्रमुख कारण है सेक्स समस्याएं जो समय के साथ अगर न सुलझाई न जाएं तो रिश्ता बचा पाना नामुमकिन हो जाता है । सेक्सोलॉजिस्ट डॉ. बी. के. कश्यप कहते हैं कि शरीर की अन्य समस्याओं की तरह सेक्स संबंधी समस्याएं भी आम हैं । सेक्स करने के दौरान संतुष्टि ना होना या फिर शादी के बाद महिला या पुरुष में सेक्स को लेकर उत्तेजना ना होना जैसी कई सेक्स समस्याएं आम हैं । पुरुषों के पेनिस में तनाव ना आना, महिलाओं की योनि का सूखापन जैसी बहुत सी सेक्स प्रॉब्लम्स हैं, जिनके बारे में महिलाएं ही नहीं, पुरुष भी चर्चा नहीं करना चाहते । सेक्स प्रॉब्लम्स के चलते अगर समय रहते उचित सलाह और चिकित्सा न मिले तो व्यक्ति हीन भावना और डिप्रेशन का भी शिकार हो सकता है । ऐसी सेक्स प्रॉब्लम का अगर समाधान न हों तो इसका परिणाम  रिश्ता टूटने से लेकर आत्महत्या तक हो सकती है । यहां हम आपको बता रहे हैं  प्रमुख सेक्स समस्याओं के बारे में और यह भी कि इनका समाधान कैसे किया जाए-

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन


कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो सहवास करने की इच्छा तो रखते हैं लेकिन उनका लिंग में जल्दी तनाव नहीं बनता, तनाव आने पर भी अकसर ये जल्दी खत्म हो जाता है जिसकी वजह से पुरुष अपने पार्टनर को पूरी तरह से संतुष्ट नहीं कर पाता । 
इसका प्रमुख कारण  शारीरिक न होकर मानसिक होता है । पेनिस में तनाव ना आने की सबसे बड़ी वजह चिंता करना और टेंशन लेना और सही खान पान ना होना है ।

समाधान

यह सेक्स समस्या मानसिक होती है, इसीलिए इसका इलाज भी यही है कि आप सेक्स के पहले खुश रहें और पूरी तरह तनाव रहित होकर बेड पर जाएं । अगर तब भी बात न बने तो साइकोलॉजिस्ट का सहारा लें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के रोगी को प्रतिदिन हल्का व्यायाम करना चाहिए, इससे यह समस्या कम होती है । साथ ही अगर आप बहुत अधिक तेल और मसाले युक्त भोजन करते हैं या फिर किसी भी तरह के नशे के शिकार हैं तो उससे बचना चाहिए, इससे इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की प्रॉब्लम काफी हद तक ठीक हो सकती है ।  और फिर भी समस्या बनी रहे तो आखिर में सेक्सोलॉजिस्ट के पास जाएं ।

पुरुषों में प्री मच्योर इजेकुलेशन


अगर सेक्स करते समय, समय से पहले पुरुष का सीमेन निकल जाए तो इसे प्री मच्योर इजेकुलेशन कहा जाता है । यह स्थिति सेक्स लाइफ खराब कर देती है । पर यह अक्सर कोई बीमारी न होकर मन की स्थिति होती है जिसका समाधान बहुत ही आसान है ।

समाधान

जब व्यक्ति सेक्स करना शुरू करता है तो ज्यादा एक्साइटमेंट के कारण प्री मच्योर इजेकुलेशन होना आम बात है । यह बीमारी कम और मानसिक स्थिति पर ज्यादा निर्भर करता है । इसका उचित कारण ढूढें,  इस समस्या में अल्कोहल का सेवन बंद कर देना चाहिए । सेक्स संबंध बनाने में कोई जल्दबाजी ना करें । साथ ही इस समय मन में किसी तरह की कोई चिंता, तनाव और भय नहीं होना चाहिए । संभोग से पहले फोरप्ले में अधिक समय लगाएं । इस स्थिति में एस्परगस और दूध लाभदायक होता है। केसर भी इसका रामबाण इलाज है । इसके अलावा अदरक, शहद, जायफल, प्याज के बीज, तरबूज भी इसके लिए लाभकारी हैं। एक बार सेक्स करने में 400 से 500 कैलोरी की खपत होती है इसलिए सेक्स के दौरान बीच-बीच में जूस, दूध, ग्लूकोज आदि भी ले सकते है।
 सबसे पहले किसी साइको सेक्सोलॉजिस्ट की सलाह लें । नीम- हकीम के पास जाने से बेहतर इसका सही इलाज करवाएं वो भी किसी अच्छे साइको सेक्सोलॉजिस्ट से ।

 दर्द भरा सेक्सुअल इंटरकोर्स

योनि के मुख पर ही कई नसों के आखिरी सिरे मौजूद होते हैं जिससे यह हिस्सा काफी संवेदनशील हो जाता है और इसीलिए सेक्स के दौरान लिंग के अन्दर जाने पर इस हिस्से में दर्द होने लगता है।
यह लेडीज की आम समस्या है । इंटरकोर्स के दौरान दर्द होना भी कई महिलाओं को सेक्स से दूर करता है । वेजाइना में सूखेपन, सूजन या किसी इंफेक्शन आदि के कारण यह समस्या हो सकती है।

समाधान


पार्टनर को मालूम होना चाहिए कि कब महिला को दर्द हो रहा है और कब महिला सहयोग दे रही है । जिसमें महिला आनंद उठाए, ऐसी पोजीशन में सेक्स करें तो यह समस्या उत्पन्न ही नहीं होगी । साथ ही इसके लिए एक अच्‍छा लुब्रिकेंट भी इस्‍तेमाल करना चाहिए । अगर इससे भी आराम ना हो या इंटरकोर्स के दौरान लगातार दर्द हो तो डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए ।

सेक्स की इच्छा में कमी


पुरूषों में सेक्स इच्छा कम होने के कई कारण होते हैं जैसे पारिवारिक समस्या, शारीरिक अस्वस्थ्ता या कामेच्छा की कमी । इनकी वजह से पुरूषों में सेक्स करने की चाहत खत्म हो जाती है। यह समस्या सामान्य तौर पर महिलाओं में देखने को मिलती है । महिलाओं में सेक्स की इच्छा में कमी डिप्रेशन, थकान या स्ट्रेस की वजह से हो सकती है । कई महिलाओं को शरीर के कुछ ख़ास हिस्सों पर हाथ लगाने से दर्द भी महसूस होता है या ऐसा करना उन्हें अच्छा नहीं लगता । इससे भी वो सेक्स से बचना चाहती हैं ।

समाधान


इसका इलाज किसी डाक्टर या नीम- हकीम के पास न होकर पार्टनर के पास ही है । पारिवारिक कलह व रिश्तों में टेंशन न हो, इसका खास ख्याल रखें । पार्टनर को चाहिए कि पहले अपने साथी को और उसकी जरूरत को समझें । अगर आपका साथी आपके साथ कम्फर्टेबल होगा तो आपकी सेक्स लाइफ भी अच्छी हो जाएगी ।

ऑर्गाज्म  ना होना या देर से होना


इंटरकोर्स के दौरान स्त्रियों का ऑर्गाज्म तक ना पहुंच पाना भी एक आम सेक्स समस्या है । यह समस्या मानसिक तनाव या सेक्स के दौरान दर्द आदि के कारण हो सकती है । बेहतर ऑर्गाज्म ना होने के कारण कई अन्य शारीरिक समस्याएं भी पैदा हो सकती हैं ।

समाधान


इसका सबसे बड़ा कारण है महिला का ठीक से एक्साइटेड न होना । इससे बचने के लिए सेक्स से पहले फोरप्ले पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए और सेक्स के दौरान मन को भटकने नहीं देना चाहिए।

 इंपोटेंसी यानि नपुंसकता


इंपोटेंसी के लिए डायबटीज, हाई ब्लडप्रेशर, चर्बी की अधिकता आदि कारण प्रमुख होते हैं । सिगरेट, तंबाकू और एल्कोहल के सेवन से भी इरेक्शन की प्रॉब्लम हो सकती है ।

समाधान


इस समस्या के निदान के लिए आप अपने शुगर लेवल और रक्तचाप को नियंत्रित रखें । साथ ही नियमित रूप से एक्सरसाइज करें । इसके बावजूद यदि समस्या का पूर्ण समाधान न हो तो आपको किसी सेक्सोलॉजिस्ट से संपर्क करना चाहिए ।

 पसंद और नापसंद


दोनों पार्टनर की सेक्स को लेकर अलग-अलग पसंद और नापसंद हो तो भी सेक्सुअल रिलेशन बनाने में समस्या हो सकती है ।

समाधान


इसके लिए जरूरी है कि अपने पार्टनर के साथ भावनात्मक रूप से जुड़ें । अपनी पंसद और नापंसद के बारे में सेक्स से पहले ही बात कर लें । सेक्स के बारे में खुलकर बातचीत करना सेक्स को सुखद और यादगार बना सकता है ।

अधिक जानकारी के लिए Dr.B.K.Kashyap से संपर्क करें 8004999985


Kashyap Clinic Pvt. Ltd.


Blogger -- https://drbkkashyap.blogspot.in

Google Plus- https://plus.google.com/100888533209734650735


Gmail-dr.b.k.kashyap@gmail.com


Twitter- https://twitter.com/kashyap_dr

Justdial- https://www.justdial.com/Allahabad/Kashyap-Clinic-Pvt-Ltd-Near-High-Court-Pani-Ki-Tanki-Civil-Lines/0532PX532-X532-121217201509-N4V7_BZDET
 
Lybrate - https://www.lybrate.com/allahabad/doctor/dr-b-k-kashyap-sexologist

Sehat - https://www.sehat.com/dr-bk-kashyap-ayurvedic-doctor-allahabad

Linkdin - https://in.linkedin.com/in/dr-b-k-kashyap-24497780





Sunday, 24 March 2019

पुरुषो की प्रमुख सेक्स समस्याएं


पुरुषो की प्रमुख सेक्स समस्याएं क्‍या होती हैं ?


पुरुषों में सेक्स समस्याओं की बात आते ही सबसे पहले उन लोगों पर ध्यान जाता है, जो चाह कर भी सेक्स में रुचि नहीं ले पाते हैं या जिनकी सेक्स करने में कोई दिलचस्पी नहीं होती ।
सेक्‍स संबंधी समस्‍यायें पुरुषों को भी परेशान करती हैं । तनाव व कई अन्‍य कारणों से पुरुषों को इस तरह की समस्‍या हो सकती है । अपने आहार में विटामिन बी युक्‍त पदार्थों को शामिल कर पुरूष सेक्स संबंधी कई समस्याओं से बच सकते हैं ।

                                                                टेस्टोस्टेरोन की कमी


सेक्स क्षमता की एक बड़ी वजह सेक्स हॉरमोन टेस्टोस्टेरोन की कमी होना है। पुरुषों में 40 की उम्र के पार होने पर रक्त में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा में कमी आना एक आम बात है । हार्मोन में कमी उम्र के साथ जुड़ी समस्या है लेकिन कुछ लोग अपनी उम्र की शुरुआत में ही इससे पीड़ित हो जाते हैं । रक्त में टेस्टोस्टेरोन की कमी से शरीर में थकान, दिमागी परिवर्तन, अनिद्रा के साथ ही सेक्स की चाहत में कमी हो जाती है ।
इसकी दवाएं अलग होती हैं । टेस्ट करके हार्मोन के कारणों का पता किया जाता है । इसके बाद दवाओं  से इलाज किया जाता है । इसके अलावा जिंक और मैग्नीशियम जैसे खनिज शरीर में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में प्रमुख भूमिका निभाते हैं अत: इन खाद्य पदार्थों का सेवन बहुत जरूरी है । कई बार वजन ज्यादा होने की वजह से भी यह समस्या हो जाती है इसलिए वजन नियंत्रित रखना जरूरी है, मीठा कम से कम खाएं, खूब पानी पीना भी इसमें फायदेमंद रहता है ।

                                                                       शीघ्रपतन


यह पुरुषों में होने वाली सामान्‍य सेक्‍स समस्‍या है । इसमें पुरुष महिला को संतुष्‍ट किये बिना ही स्‍खलित हो जाते हैं । स्त्री के सामने आते ही घबरा जाना, वीर्य निकल जाना इत्यादि भी सेक्स समस्याओं के अंतर्गत ही आता है । इससे पुरुष घबराकर या शरमाकर स्त्री से दूर-दूर भागने लगते हैं और अपनी बीमारी को छिपाने की कोशिश करते हैं ।
सबसे पहले तो यह बात जान लें कि यह बीमारी लाइलाज नहीं है लेकिन इसका इलाज ना कराने जैसी लापरवाही भी ना बरते वरना प्रॉब्लम बढ़ती ही जाएगी । इस समस्या में अल्कोहल का सेवन बंद कर देना चाहिए । सेक्स संबंध बनाने में कोई जल्दबाजी ना करें । साथ ही इस समय मन में किसी तरह की कोई चिंता, तनाव और भय नहीं होना चाहिए । संभोग से पहले फोरप्ले में अधिक समय लगाएं । इस स्थिति में एस्परगस और दूध लाभदायक होता है । केसर भी इसका रामबाण इलाज है । इसके अलावा अदरक, शहद, जायफल, प्याज के बीज, तरबूज भी इसके लिए लाभकारी हैं । एक बार सेक्स करने में 400 से 500 कैलोरी की खपत होती है इसलिए सेक्स के दौरान बीच-बीच में जूस, दूध, ग्लूकोज आदि भी ले सकते है ।

मांसपेशियों का कमजोर होना  इरेक्टाइल डिस्फंक्शन


सेक्स में दिलचस्पी खत्म होने का सबसे बड़ा कारण इरेक्टाइल डिस्फंक्शन यानी लिंग की मांसपेशियां कमजोर पड़ना माना जाता है । कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो सहवास करने की इच्छा तो रखते हैं लेकिन उनका लिंग में जल्दी तनाव नहीं बनता । तनाव आने पर भी अकसर ये जल्दी खत्म हो जाता है जिसकी वजह से पुरुष अपने पार्टनर को पूरी तरह से संतुष्ट नहीं कर पाता । 
यह समस्या कई बार विटामिन बी के सेवन न करने से, धूम्रपान और अल्‍कोहल का आदी  होना, आदि के कारण भी हो सकती हैं । हमारी लाइफस्‍टाइल का इस परेशानी से सीधा संबंध होता है । कई बार तनाव भी इसकी वजह बन सकता है ।

                                                           सेक्स के प्रति उदासीनता


शराब पीने वालों, कोकीन आदि ड्रग्स लेने वाले पुरुषों में सेक्‍स के प्रति उदासीनता देखी जाती है । अधिक मोटापा भी व्‍यक्ति में सेक्‍स के प्रति अरूचि पैदा कर देता है । कई बीमारियां जैसे- हृदय रोग, एनीमिया और मधुमेह जैसी बीमारियां भी पुरुष को सेक्स के प्रति उदासीन बनाती हैं । अत्‍यधिक व्‍यस्‍त जीवन भी सेक्‍स जीवन पर असर डालता है ।

सेक्स शक्ति में कमी का भ्रम


कई लोग यह मानते हैं कि एक उम्र के बाद शरीर में सेक्स शक्ति में कमी आ जाती है । हालांकि यह पूरी तरह सत्‍य नहीं है । यदि पुरुष अपने स्वास्थ्य की ठीक प्रकार से देखभाल करते हैं, तो वे लंबे समय तक सेक्‍स जीवन का आनंद उठा सकते हैं ।

                                                              स्वप्नदोष 


स्वप्नदोष की समस्या किशोरों में होने वाली आम यौन समस्याओं में से एक है जिसमे अनैच्छिक रूप से वीर्यपात हो जाता है । हालांकि ये समस्या कोई गंभीर समस्या नहीं है पर अगर ये समस्या रोजाना या बार- बार हो तो इलाज की जरूरत पड़ती है ।

                                                          पेनिस का साइज


 बहुत सारे पुरुष अपने लिंग के आकार को लेकर भी परेशान रहते हैं और हीन भावना का शिकार हो जाते हैं । यही वजह है कि वह सेक्स से घबराने लगते हैं और अपने भीतर मौजूद संभोग की इच्छाओं को दबाते हैं और इससे बचने की कोशिश करते हैं । यह समस्या मेडिकल से ज्यादा मेंटली है ।
सच्चाई यह है कि यह मेडिकली भी प्रमाणित हो चुका है कि सेक्स को एन्जॉय करने के लिए लिंग का साइज कोई मायने नहीं रखता । आपके लिंग का आकार बड़ा हो या छोटा आप अपने साथी को पूरी तरह संतुष्ट कर सकते हैं । तो अब आपको लिंग के आकार के बारे में चिंतित होने की जरूर नहीं है । अगर आप जंक फूड खानेे के शौकीन हैं तो इनसे बचें । इसके अलावा अगर आप शारीरिक मेहनत और एक्सरसाइज नहीं करते हैं तो धमनियों में कोलेस्ट्रोल बढऩे का खतरा भी कम रहता है, जिससे लिंग में ब्लड सर्कुलेशन कम होने लगता है, इसलिए हाई कैलोरी फूड से बचें । खजूर कई तरह के स्वास्थ्यवर्धक गुणों से परिपूर्ण होता है । यह तासीर में गर्म होता है, खजूर खाकर शरीर को उर्जा मिलती है। साथ ही यह शरीर को मजबूत और गुप्त अंगों को कमजोर होने से रोकता है ।


अधिक दवाइयों का  होता हैं विपरीत असर

सेक्स इच्छा में कमी कई बार अधिक दवाइयों का प्रयोग करने, शरीर में रोगों का प्रभाव होने, मूत्रनली से संबंधित रोग होने, तनाव होने और मानसिक समस्या के कारण हो सकते हैं ।

अधिक जानकारी के लिए Dr.B.K.Kashyap से संपर्क करें 9305273775

Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Blogger -- https://drbkkashyap.blogspot.in

Google Plus- https://plus.google.com/100888533209734650735


Gmail-dr.b.k.kashyap@gmail.com


Twitter- https://twitter.com/kashyap_dr

Justdial- https://www.justdial.com/Allahabad/Kashyap-Clinic-Pvt-Ltd-Near-High-Court-Pani-Ki-Tanki-Civil-Lines/0532PX532-X532-121217201509-N4V7_BZDET
Lybrate - https://www.lybrate.com/allahabad/doctor/dr-b-k-kashyap-sexologist
Sehat - https://www.sehat.com/dr-bk-kashyap-ayurvedic-doctor-allahabad
Linkdin - https://in.linkedin.com/in/dr-b-k-kashyap-24497780

Tuesday, 19 March 2019

शीघ्रपतन के कारण और उपचार


शीघ्रपतन के कारण और उपचार

शीघ्रपतन

संभोग के समय चरम आनंद पर पहुँचने से पहले पुरुष का वीर्य निकल जाना ही शीघ्रपतन है, ऐसे में शारीरिक और मानसिक कमजोरी की वजह से वीर्य स्खलन पर कंट्रोल नहीं हो पाता, बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम है और सामान्यतः दुनिया भर के 30 से 40% पुरुषों में पाई जाती है।  ये भी माना जाता है कि हर पुरुष अपने जीवन काल में कभी न कभी शीघ्रपतन की समस्या से ग्रस्त होता है। इसलिए अगर आप इस समस्या से परेशान हैं तो खुद को अकेला मत समझिये, आप अकेले नहीं जूझ रहे बल्कि एक-तिहाई पुरुष जाति आपके साथ है। कुछ पुरुष सेक्स के दौरान जल्दी वीर्य झड़ने की समस्या का उपचार के लिए दवा लेते है पर बिना मेडिसिन शीघ्रपतन का इलाज घरेलू तरीके, देसी नुस्खे और आयुर्वेदिक दवा से भी कर सकते है। आइये जाने इन नुस्खों के बारे में ।

शीघ्रपतन के कारण

शीघ्रपतन की समस्या शारीरिक और मानसिक दोनों कारणों से हो सकती हैं। फिर भी कुछ खास कारण है जो शीघ्रपतन का कारण माने जाते है -

अधिक शारीरिक उत्तेजना का होना

जो पुरुष सेक्स से बारे में अधिक सोचते है या पोर्नोग्राफी में लिप्त होते है सेक्स से सम्बंधित  किताबें-वीडियो अधिक देखते हैं वे जल्दी उत्तेजित हो जाते है और परिणामतः शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न होने लगती हैं।

सेक्स से जुड़ा अज्ञान शीघ्रपतन का होता है कारण 

 सेक्स के बारे में सही जानकारी ना होना सेक्स एजुकेशन की कमी  और सेक्स से जुड़ा अज्ञान शीघ्रपतन का एक और बड़ा कारण हैं । भारत में युवा वर्ग में इस विषय में कई सारे मिथक फैले हुए है और यहि कारण है की अज्ञान और घबराहट के कारण कई युवाओं में यह समस्या उत्पन्न होती हैं ।

नसों का कमजोर होना कारण होता है शीघ्रपतन का

दिनचर्या में गलत आदतों का शामिल होना जैसे शराब, तम्बाखू, गुटखा, धूम्रपान आदि और कुछ रोग जैसे  डायबिटीज , मोटापा जैसे रोग के कारण शरीर की तंत्रिका प्रणाली पर विपरीत प्रभाव पड़ता है जिससे लिंग की नसे कमजोर होने से भी शीघ्रपतन की समस्या उत्पन्न हो जाती हैं ।

हार्मोन असंतुलन होता है शीघ्रपतन का कारण

 प्रत्येक व्यक्ति के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन पाया जाता है जिसे सेक्स हार्मोन भी कहा जाता है  सामान्यतः उम्र के साथ शरीर में टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन में कमी आ जाती है और शीघ्रपतन की समस्या निर्मित होती हैं। आजकल युवा वर्ग में भी आलस्य मोटापे के कारण इस हॉर्मोन में कमी जल्द आने से यह समस्या जल्द निर्माण हो रही हैं 

मानसिक तनाव भी होता है शीघ्रपतन का कारण

 आज की भागदौड़ बरी जिन्दगी में तनाव का स्तर बढ़ता ही जा रहा है  तनाव या चिंता जैसे मानसिक कारणों से शीघ्रपतन होना आम बात हैं । कुछ लोगों में कोई समस्या न होते हुए भी केवल तनाव और शीघ्रपतन न हो जाये इस चिंता से भी शीघ्रपतन हो जाता हैं । 

रोग का होना भी है शीघ्रपतन का कारण

 कई तरह के रोग है जो शीघ्रपतन का कारण बनते है थाइरोइड, कमजोर लिंग (Erectile Dysfunction), डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, पेशाब में संक्रमण, हॉर्मोन्स में गड़बड़ी, विटामिन की कमी हो सकता हैं।

शीघ्रपतन की समस्या दूर करने के लिए व्यायाम 

 शीघ्रपतन की समस्या से निजात पाने के लिए डॉक्टर आपको कुछ विशेष एक्सरसाइज बताते है जिससे इस समस्या को बिना दवा के भी ठीक करने में सहायता प्राप्त होती हैं। शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए नीचे  दिए हुए व्यायाम / क्रिया करने की सलाह दी जाती हैं

निचोड़ तकनीक

सेक्स करते समय जब पुरुष को लगे की वीर्य निकलने ही वाला है तब अपने साथी से गुप्तांग / Glans Penis के नीचे  दबाने को कहे। इतने जोर से दबाए की वीर्य न निकले और दर्द भी न हो । जब ऐसा लगे की अब वीर्य निकलने की इच्छा समाप्त हो गयी है तब छोड़ दे । अब आधा मिनिट रुक कर दोबारा सेक्स करे और जब वीर्य निकलने का एहसास हो तो दोबारा दबाकर रखे इस तरह यह अभ्यास 8 से 10 बार करे । धीरे-धीरे अभ्यास के साथ वीर्य निकलने का अंतराल बढ़ जायेगा ।

सेक्स करने से पहले हस्त मैथुन करना

पीड़ित पुरुष को सेक्स करने के 1 या 2 घंटे पहले हस्तमैथुन करने को कहा जाता है । इससे बाद में सेक्स करते समय जल्द वीर्य स्खलन नहीं होता हैं । यह क्रिया अधिक उम्र के पुरुषों में काम नहीं आती क्योंकि उनमे हस्तमैथुन करने से दोबारा जल्द सेक्स इच्छा निर्माण होने की आशंका कम रहती हैं ।

स्टॉप-स्टार्ट तकनीक

पीड़ित व्यक्ति में वीर्य स्खलन का अंतराल और क्लाइमेक्स के अंतराल को बढ़ाने के लिए यह अभ्यास करने के लिए कहा जाता हैं। इसमें पुरुष को हस्त मैथुन करने की सलाह दी जाती है और जब ऐसा लगे की वीर्य निकलने वाला है तब पहले ही रुकने की सलाह दी जाती हैं। ऐसा बार-बार करने से वीर्य को लम्बे समय तक रोकने का अभ्यास होता हैं और शीघ्रपतन में लाभ होता हैं । 

केगेल व्यायाम

 इस एक्सरसाइज की खोज महिलाओ के लिए हुई थी लेकिन यह व्यायाम स्त्री और पुरुष दोनों के लिए फायदेमंद हैं । मूत्र विसर्जन करते समय अचानक मूत्र के बहाव को रोक दे और कुछ सेकंड के अंतराल बार फिर मूत्रविसर्जन करे । मूत्र के बहाव को रोकने के लिए जिस मांसपेशियों का इस्तेमाल होता हैं उन पर ध्यान दे । इसमें जांघ, पृष्ठ और पेट के मांसपेशियों को ढीला  रखना हैं । रोजाना इन पेशियों की कसरत करने से शीघ्रपतन में लाभ होता हैं ।

शीघ्रपतन को दूर करने के लिए आहार

 शीघ्रपतन को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा के साथ अपने आहार पर विशेष ध्यान देना चाहिए । आहार में तीखा-तला हुआ और अधिक मसालेदार आहार नहीं लेना चाहिए । आहार में ताजे फल, हरी-पत्तेदार सब्जी, फ्रूट जूस, नारियल पानी, दूध और शहद का अधिक इस्तेमाल करना चाहिए । आहार में शतावरी, अंडे, डार्क चॉकलेट, गाजर, ओट्स, अश्वगंधा अवाकडो, अंगूर, केला, प्याज, लहसुनअदरक, बादाम, मशरूम और भूरे  चावल / ब्राउन राइस जैसे आहार पदार्थों का अधिक समावेश करने से वीर्य  भी बढ़ता है और शीघ्रपतन भी नहीं होता हैं।  कच्चा लहसुन का सेवेन औए कच्ची प्याज दोनों शीघ्रपतन का घरेलु इलाज माने जाते है ।

योग प्राणायाम

योग प्राणायाम वैसे भी संपूर्ण शरीर के लिए फायदेमंद है किंतु शीघ्रपतन की चिकित्सा में इससे विशेष लाभ मिलता है. जैसे वज्रासन, मंडूकासन, शीर्षासन आदि ।

शीघ्रपतन के इलाज के लिए किस डॉक्टर के पास जाना चाहिए

यदि घरेलू व अन्य  उपायों को आजमाने के बाद भी अर्ली डिस्चार्ज की समस्या बनी हुई है तो आपको किसी  अच्छे Urologist/ sexologist सेक्स विशेषज्ञ को दिखाना चाहिए ।
नोट:- शीघ्रपतन को एक समस्या तभी माने जब ये बार-बार हो. कभी-कभार होना नॉर्मल है, और शीघ्रपतन एक आम समस्या है जिसका पूरी तरह से इलाज किया जा सकता है  ।
अधिक जानकारी के लिए Dr.B.K.Kashyap से संपर्क करें 9305273775

Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Blogger -- https://drbkkashyap.blogspot.in


Google Plus- https://plus.google.com/100888533209734650735



Gmail-dr.b.k.kashyap@gmail.com



Twitter- https://twitter.com/kashyap_dr

Justdial- https://www.justdial.com/Allahabad/Kashyap-Clinic-Pvt-Ltd-Near-High-Court-Pani-Ki-Tanki-Civil-Lines/0532PX532-X532-121217201509-N4V7_BZDET
Lybrate - https://www.lybrate.com/allahabad/doctor/dr-b-k-kashyap-sexologist
Sehat - https://www.sehat.com/dr-bk-kashyap-ayurvedic-doctor-allahabad
Linkdin - https://in.linkedin.com/in/dr-b-k-kashyap-24497780