सोमवार, 6 अक्तूबर 2014

टेस्टोस्टेरोन डिफिशन्सी सिंड्रोम

टेस्टोस्टेरोन डिफिशन्सी सिंड्रोम
/////////////////////////////////////
कई पुरुषों को टेस्टोस्टेरोन डिफिशन्सी सिंड्रोम की समस्या होती है। जिसे मेल हाइपोगोनडिस्म (Male hypogonadism) भी कहा जाता है। इसमें टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का संतुलन बिगड़ने या टेस्टोस्टेरोन के स्तर में कमी आने की वजह से सेक्स की इच्छा घट जाती है। इसके साथ इरेक्टाइल डिस्फंक्‍शन की समस्या भी हो सकती है। इससे ना सिर्फ पुरुषों की सेक्सुअल परफॉर्मेंस बेकार होती है बल्कि स्वास्‍थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन दूर करने के लिए व्यायाम

इरेक्टाइल डिसफंक्शन दूर करने के लिए व्यायाम
////////////////////////////////////////////////////////////
आधुनिक समय में जीवनशैली और आहार में आये बदलाव और भोजन में ओमेगा-3 फैटी एसिड की भारी कमी आने के कारण पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या बहुत बढ़ गई है। यौन उत्तेजना होने पर शिश्न में फैलाव और की कमी को स्तंभनदोष या इरेक्‍टाइल डिसफंक्‍शन कहते हैं। इसका मुख्य कारण डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, दवाइयां (ब्लडप्रेशर, डिप्रेशन आदि में दी जाने वाली) इत्यादि भी है

सेक्स से पहले ध्यान दें इन बातों पर

सेक्स से पहले ध्यान दें इन बातों पर
................................................
सेक्स के नाम से ही युवा उत्साहित हो जाते हैं। युवाओं के लिए सेक्स जैसा विषय हमेशा ही रहस्यमय रहता है और जब भी उन्हें सेक्स करने का मौका मिलता हैं तो वे असंतुलित हो जाते हैं। कई बार इसी उत्साह के कारण वह गलतियां भी कर बैठते हैं। सेक्स के समय युवाओं का मानसिक रूप से स्वस्थ‍ होना बेहद जरूरी है। शारीरिक संबंध बनाने के लिए यानी सेक्स से पहले फोरप्लेस की आवश्यकता को भी नकारा नहीं जा सकता। बहरहाल, सेक्स को रोचक बनाने के लिए और सेक्स से पहले किन बातों पर पर ध्यान देना जरूरी है। आइए जानें
सबसे पहले युवाओं को ध्यान रखना चाहिए कि वे किसी प्रोफेशनल महिला या पुरूष के साथ बाहर संबंध न बनाएं क्‍योंकि न सिर्फ किशोरियों में सेक्‍स समस्‍या होती है बल्कि अधिक उम्र की महिलाओं में सेक्‍स समस्‍या आम बात है लेकिन इसका ये अर्थ नहीं कि पुरूषों को कोई समस्‍या नहीं होती बल्कि पुरूषों में सेक्‍स संबंधी समस्‍याएं होना भी आम बात है।
सेक्स संबंधों के समय जल्दबाजी ना करें।
पुरूष और महिला दोनों को ही एक दूसरे के ऑर्गन्स के बारे में जानकारी होनी चाहिए जिससे वे सेक्स को एन्जॉय कर सकें।
सेक्स करने से पहले दोनों साथियों का एक दूसरे से भावनात्मक लगाव जरूरी है।
सेक्स संबंधों के समय एक-दूसरे के मन से डर को निकालना बेहद जरूरी है।
शारीरिक संबंध बनाने के लिए जरूरी है कि सेक्स से पहले फोरप्ले किया जाए जिससे दोनों साथियों को आपस में एक-दूसरे को समझने में मदद मिलें।
सेक्स से पहले ऐसी कोई बात न करें जिससे आपके साथी का मूड खराब हो जाएं।
सेक्स करने से पहले आपको साफ-सुथरा होना भी बेहद जरूरी है तभी आप अपने साथी को अपने करीब देख पाएंगे।
सेक्स को कभी गंदा न समझे व अपने मन में कोई भ्रम न पाले नहीं तो आप सेक्स से पहले ही अपने साथी को निराश कर देंगे।
ऐसा कहा जाता है कि यदि आपका पार्टनर सेक्स से पहले खुश है और सेक्स के समय फोरप्ले होता है तो आपकी लाइफ में आधे से ज्यादा तनाव यूं ही कम हो जाता है।
ये जरूरी नहीं कि हमेशा शारीरिक संबंध ही बनाए जाएं बल्कि आप अपने साथी के साथ ओरल सेक्स को भी एन्जॉय कर सकते हैं।
यदि आप जल्दी बेबी नहीं चाहते और न ही किसी तरह की सेक्‍स समस्‍याओं से जूझना चाहते तो सेक्स से पहले आपको सावधानियां बरतनी जरूरी है। सावधानियों के तौर पर आप कांट्रासेप्टिक पिल्स यानी गर्भनिरोधक गोलियां ले सकते हैं या फिर कुछ सावधानियां बरत सकते हैं।

धात गिरने की समस्या (धातुरोग) और समाधान

धात गिरने की समस्या (धातुरोग)और समाधान व्यक्तियों में बिना किसी से यौन संबंध बनायें वीर्य के अत्यधिक स्राव का होना धात गिरना, स्पर्मेटोरिया,...