Sunday, 31 May 2020

यौन जीवन में व्याप्त भ्रांतियां जो आपके यौन संबंधो पर विपरीत प्रभाव डालती है


यौन जीवन में व्याप्त भ्रांतियां जो आपके  यौन संबंधो पर विपरीत प्रभाव डालती है:

सेक्स, प्यार का ही एक स्वरूप है और आपके रिश्ते को जोड़े रखने वाली मज़बूत कड़ी व नींव भी है।  यदि यह नींव किन्हीं कारणों से कमज़ोर पड़ गई तो इसका सीधा असर आपके रिश्ते पर ही पड़ेगा।  सेक्स को लेकर आज भी बहुत सी भ्रांतियां व डर हैं जो आपके रिश्ते पर नकारात्मक असर डालते हैं। 
क्या हैं ये भ्रांतियां और क्या है सच्चाई यह जानना ज़रूरी है ताकि आपका रिश्ता बना रहे व मज़बूती से टिका भी रहे। 

भ्रांतियां:-

1- रोज़ाना सेक्स नहीं करना चाहिए

यह मात्र ग़लतफ़हमी है।  आप दोनों अगर रोज़ाना सेक्स करने की इच्छा रखते हो तो ख़ुद को रोके रखने में समझदारी नहीं है पति का मन है, लेकिन पत्नी के मन में यह बात घर कर गई है कि यह रोज़ करनेवाली क्रिया नहीं है ऐसे में पति का नाराज़ होना जायज़ है।  बेहतर होगा कि इस बात को मन से निकाल दें और अपनी सेक्स लाइफ को क्रिएटिव बनाने की तरफ़ ध्यान दें। 

2- दिन में बस एक बार ही सेक्स करना चाहिए

यह दूसरी सबसे बड़ी भ्रांति है।  भूल जाइए कि आपके दोस्त व रिश्तेदार क्या कहते हैं क्योंकि ऐसा कोई फिक्स नंबर नहीं है और न ही कोई मैजिक नंबर है जो आपको पता चल जाए और आप उसको फॉलो करें।  सेक्स हमेशा सहज और स्वाभाविक होना चाहिए।  कपल जब भी एक-दूसरे के लिए यह महसूस करें उन्हें सेक्स करना चाहिए और यदि दोनों में से एक का भी मन न हो, तो इंतज़ार करना ही बेहतर होगा, क्योंकि यह किसी एक को ख़ुश व संतुष्ट करने की क्रिया नहीं बल्कि आपके रिश्ते को और भी ख़ूबसूरत बनाने की क्रिया है।  तो यह जितना सहज होगा उतना बेहतर होगा। 

3- सेक्स के लिए नियम नहीं बनाना चाहिए

जी नहीं।  आप इसका टाइम टेबल ज़रूर बना सकते हो और यह आपको फन का एक्सपीरियंस देगा।  यह सच है कि सेक्स सहज होना चाहिए, लेकिन याद करें रिश्ते के शुरुआती दिन, जब आप बन-ठनकर, कैंडल्स जलाकर, सेक्सी ड्रेस पहनकर मूड ऑन करते थे तो क्यों न अपने कैलेंडर पर नए तरी़के से काम करें और सेक्स के लिए भी टाइम टेबल बनाकर रिश्ते में नयापन व ताज़गी लाएं। 

4- सभी पुरुष रोज़ सेक्स करने की चाह रखते हैं

अधिकांश महिलाएं पुरुषों के बारे में यही राय रखती हैं।  उन्हें लगता है पुरुष हमेशा सेक्स के लिए तैयार रहते हैं और यदि उन्हें ख़ुश न रखा गया, तो वो रिश्ते से बाहर सेक्स व प्यार ढूंढ़ने लगते हैं।  जबकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं हैं।  पुरुष ही नहीं, बहुत सी महिलाएं भी हैं जिनके सेक्स की चाहत अपेक्षाकृत अधिक होती है।  यह व्यक्ति पर निर्भर करता है कि उसकी सेक्स की इच्छा कब और कितनी होती है।

5- महिलाएं सेक्स को एंजॉय नहीं करतीं

यह भी बहुत बड़ी ग़लतफ़हमी है और इसका शिकार भी सबसे ज़्यादा महिलाएं ही हैं।  महिलाओं को ख़ुद लगता है कि सेक्स स़िर्फ पुरुषों को ख़ुश करने के लिए होता है।  ऐसे में वो सेक्स में पहल करने से भी कतराती हैं और सेक्स की इच्छा या अनिच्छा होने पर व्यक्त भी नहीं कर पातीं, वो अपने पार्टनर के मन व मूड के अनुसार सेक्स करती हैं।  लेकिन इस तरह का सेक्स मशीनी प्रक्रिया से अधिक कुछ नहीं होगा।  सेक्स भावना है, कोई रूटीन काम नहीं, जिसे बस निपटाना है. इस भावना को जब तक महसूस नहीं करेंगे तब तक पार्टनर से कैसे जुड़ाव महसूस करेंगे?

6- उम्र बढ़ने पर सेक्स की इच्छा कम हो जाती है, इसलिए ख़ुद पर कंट्रोल रखना चाहिए

अधिकांश भारतीयों में यह सोच होती है कि बच्चे बड़े हो रहे हैं तो ऐसे में यह सब शोभा नही देता।   सेक्स से उम्र या बच्चों का कोई लेना-देना नहीं होता आप जब तक हेल्दी हैं और जब तक आपकी इच्छा है आप सेक्स कर सकते हैं इसमें कोई बुराई नहीं है। 

7- मेरे पार्टनर को पता होना चाहिए कि मुझे सेक्स के दौरान क्या पसंद है, क्या नहीं

सबसे पहले तो यह जान लें कि आपका पार्टनर माइंड रीडर नहीं है।   जब तक आप दोनों कम्यूनिकेट नहीं करेंगे, तब तक किसी को कुछ पता नहीं चलेगा।  आप दोनों बस अंदाज़ा ही लगाते रह जाओगे।  जिस तरह रिश्ते की मज़बूती के लिए कम्यूनिकेशन ज़रूरी है उसी तरह अच्छी सेक्स लाइफ के लिए भी कम्यूनिकेशन बेहद ज़रूरी है. आप दोनों को एक-दूसरे से बात करनी चाहिए अपनी फैंटसीज़, अपने प्लेज़र पॉइंट्स आदि बताने चाहिए, ताकि सेक्स आप दोनों के लिए संतोषजनक हो। 

8- शादीशुदा कपल पारंपरिक सेक्स ही करते हैं

अधिकांश कपल्स की सेक्स को लेकर कई तरह की फैंटसीज़ होती हैं।  उनकी कल्पना का सेक्स अलग ही होता है जबकि हक़ीक़त इससे कोसों दूर होती है क्योंकि सेक्स को लेकर आपके मन में बहुत से मिथ्स होते हैं आपको लगता है कि शादी के बाद सेक्स में ज़्यादा एक्सपेरिमेंट नहीं कर सकते हैं जबकि आप अपनी फैंटसीज़ एक-दूसरे के साथ डिसकस कर सकते हैं और जितना संभव हो, उन्हें पूरा करने का प्रयास भी कर सकते हैं चाहे सेक्स पोज़ीशन की बात हो या नई जगह पर सेक्स करना, आप सब कुछ ट्राई कर सकते हो,  ज़रूरी नहीं कि आप अपनी सेक्स लाइफ को पारंपरिक सेक्स का नाम देकर बोरिंग बना दें और अपने रिश्ते को कमज़ोर करने की नींव रख दें। 

9- बढ़ती उम्र के साथ फोरप्ले और नॉटी बातें कम होती जाती हैं

यह सच नहीं है।   आपकी उम्र से इन सब बातों का कोई लेना-देना नहीं होता।  फोरप्ले हमेशा ही ज़रूरी होता है और नॉटी बातें आपके रोमांस को बरक़रार रखती हैं।  बेहतर सेक्स व रिलेशनशिप के लिए दोनों का ही नॉटी होना बेहद ज़रूरी है, चाहे आपकी उम्र कितनी भी हो। 

10- किसी यंग के साथ सेक्स का अनुभव बेहतर होता है

यह भी बहुत बड़ी भ्रांति है।  सेक्स अनुभव व उम्र के साथ बेहतर होता जाता है और आप दोनों ही समय के साथ एक-दूसरे को बेहतर समझने लगते हैं।  ऐसे में उम्र का सेक्स के अनुभव व बेहतर सेक्स से कोई लेना-देना नहीं होता।  यह कतई ज़रूरी नहीं कि यंग पार्टनर के साथ सेक्स का अनुभव ज़्यादा अच्छा रहेगा।  यहां मामला उल्टा भी हो सकता है। 



11- पत्नी को ऑर्गैज़्म न मिला, तो वो पति को कमज़ोर समझेगी

यह सोच पुरुष व महिलाएं दोनों में होती है।  यदि सही तरी़के से फोरप्ले किया जाए, तो दोनों को ही एक साथ ऑर्गैज़्म मिल सकता है।  लेकिन यदि इस क्रिया में कभी ज़्यादा एक्साइटमेंट के चलते या कभी अन्य कारणों से कोई एक जल्दी स्खलित हो जाए, तो इसका यह कतई अर्थ नहीं कि वो कमज़ोर है।  ऐसा होना स्वाभाविक है। समय के साथ-साथ जब आप दोनों की कंपैटिबिलिटी व समझ बढ़ेगी, तो सेक्स को लेकर सहजता भी बढ़ेगी और आपका अनुभव बेहतर होता जाएगा।  कई बार तो पत्नियां भी मात्र इस बात का प्रदर्शन करती हैं कि उन्हें ऑर्गैज़्म मिला है, पर बेहतर होगा सेक्स को लेकर खुलकर बात करें।  इससे आपका रिश्ता भी बेहतर होगा, वरना कुंठाएं जन्म लेंगी। 

12- सेक्स से कमज़ोरी आती है

यह सोच आज भी है।  लंबे समय तक एथलीट्स को भी यही सलाह दी जाती थी कि अपनी परफॉर्मेंस से पहले की रात वो सेक्स न करें।  इस सोच के पीछे की धारणा यह होती थी कि सेक्स न करने से आपकी ऊर्जा बचती है और वो एग्रेशन आप अपनी परफॉर्मेंस में देते हैं, जिससे आपका प्रदर्शन बेहतर होता है।  पर अब कई शोध यह साबित कर चुके हैं कि इसमें सच्चाई कम ही है।  बेहतर सेक्स आपके प्रदर्शन को बेहतर करता है, न कि कमज़ोर।

13- पोर्न फिल्म्स से आप अपनी सेक्स लाइफ में नई ताज़गी ला सकते हैं

बहुत से लोग यह सोचते हैं कि इस तरह की फिल्म्स में जो दिखाया जाता है वह सच में संभव है, जबकि यह मात्र सेक्स को ग़लत संदर्भ में ग़लत तरी़के से दिखाती हैं।  यह स़िर्फ पैसे कमाने की इंडस्ट्री है, इसे आपकी सेक्स लाइफ या आपको एजुकेट करने में कोई दिलचस्पी नहीं होती।  ये आपको वही दिखाती हैं, जो आपको अधिक उत्तेजक लगे, लेकिन यथार्थ में वह संभव नहीं हो सकता।  कई लोग जब अपने पार्टनर पर पोर्न फिल्म देखकर उसी तरह परफॉर्म करने का दबाव बनाते हैं, तो रिश्तों में दूरियां व दरार आने लगती है।  बेहतर सेक्स के लिए पार्टनर की भावनाओं का ख़्याल रखना सबसे ज़रूरी है। साथ ही यह भी ध्यान रखें कि पोर्न देखने की लत से आपका सेक्स जीवन पूरी तरह से ख़त्म होने की कगार पर आ सकता है, क्योंकि उसके बाद आपको रियल सेक्स बोरिंग लगने लगता है और आपको वो नकली दुनिया ज़्यादा हसीन व रंगीन नज़र आती है. बेहतर होगा कि इन फिल्मों की लत से बचें।

14- अल्कोहल सेक्सुअल परफॉर्मेंस बेहतर करता है

शुरुआती दौर में आपको ऐसा लगता है, लेकिन अल्कोहल आगे चलकर आपकी परफॉर्मेंस व सेहत दोनों को ख़राब ही करता है।  साथ ही यह रिश्तों पर नकारात्मक असर डालता है. इसलिए कभी-कभार इसका सेवन आपका मूड बेहतर कर सकता है, पर इसकी भी लत अच्छी नहीं और इसे लेकर यह भ्रम ख़तरनाक है कि आपकी सेक्सुअल परफॉर्मेंस इससे बेहतर होगी। 

Thursday, 21 May 2020

टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढाने के प्राकृतिक (नैचुरल) उपाय


टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढाने के प्राकृतिक (नैचुरल) उपाय :

पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन का खास महत्व होता है। जानें इस हार्मोन को प्राकृतिक तरीकों से बढ़ाने के आसान तरीके। टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को पुरुषत्व का हार्मोन कहा जाता है। इसका कारण यह है कि यही वो हार्मोन है, जिसके कारण किसी व्यक्ति के शरीर में पुरुषों वाले बदलाव आते हैं। वैज्ञानिक इसे मेल सेक्स हार्मोन कहते हैं। महिलाओं में भी टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन पाया जाता है, मगर इसकी मात्रा बहुत कम होती है। ये हार्मोन पुरुषों के अंडकोष में बनता है।
एक पुरुष के जीवन में इस हार्मोन की हर उम्र में बड़ी भूमिका होती है। पुरुषों के शरीर में दाढ़ी उगाने, मसल्स में बदलाव, भारी आवाज, बालों के विकास, सेक्स क्षमता, कामुकता आदि सभी इस हार्मोन के द्वारा ही कंट्रोल होते हैं। अगर आपको भी लगता है कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन की कमी है, तो हम आपको बता रहे हैं इसे बढ़ाने के आसान प्राकृतिक उपाय, जो रिसर्च बेस्ड हैं, इसलिए आप इन पर भरोसा कर सकते हैं।

एक्सरसाइज और वजन उठाना

बड़े स्तर पर की गई एक स्टडी के आधार पर वैज्ञानिकों ने बताया है कि टेस्टोस्टेरॉन को बूस्ट करने का सबसे प्रभावी तरीका है- एक्सरसाइज। इसीलिए आपने देखा होगा कि जो लोग रेगुलर एक्सरसाइज करते हैं, उनके मसल्स, बॉडी के फीचर्स बेहतर हो जाते हैं और स्टैमिना बढ़ जाता है। रेजिस्टेंस ट्रेनिंग जैसे, वेट-लिफ्टिंग यानी भारी वजन उठाने से भी टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बूस्ट होता है।
प्रोटीन, फैट और कार्ब्स खाएं

आपके खानपान का भी आपके सेहत और टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन पर काफी प्रभाव पड़ता है। रिसर्च के अनुसार ओवर-ईटिंग से आपका टेस्टोस्टेरॉन लेवल कम होता है। वहीं प्रोटीनयुक्त हेल्दी चीजें खाने से फालतू जमा चर्बी कम हो जाती है, जिससे टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ता है। इसी तरह कार्ब और हेल्दी फैट्स का भी टेस्टोस्टेरॉन लेवल पर अच्छा प्रभाव देखा गया है। इसलिए आप अपनी डाइट में ऐसे फूड्स शामिल कीजिए, जिनमें फैट, प्रोटीन और कार्ब्स का बैलेंस हो, ताकि हार्मोन सही तरह से काम करें।
अश्वगंधा और अदरक है इस हार्मोन की प्राकृतिक दवा

वैसे तो बाजार में सैकड़ों दवाएं हैं, जो टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढ़ाने का दावा करती हैं। लेकिन इनमें से साइंटिफिक रिसर्च में कुछ दवाएं ही कारगर पाई गई हैं। इन्हीं में से एक है अश्वगंधा। एक अध्ययन के अनुसार अश्वगंधा के सेवन से टेस्टोस्टेरॉन लेवल 17% और स्पर्म काउंट 167% तक बढ़ा हुआ पाया गया है। इसी तरह एक अन्य रिसर्च में अदरक के अर्क को भी टेस्टोस्टेरॉन को बूस्ट करने में प्रभावी पाया गया है। हालांकि अदरक पर हुई ज्यादातर रिसर्च जानवरों पर आधारित रही है। मगर अदरक के फायदों को देखते हुए आपको रोजाना के खानपान में इसे जरूर शामिल करना चाहिए।
धूप में बैठें, थोड़ा विटामिन D लें

12 महीने तक चले एक अध्ययन के आधार पर वैज्ञानिकों ने बाताया कि रोजाना थोड़ा समय धूप में बैठने से टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन के उत्पादन को 25% तक बढ़ाया जा सकता है। इसी आधार पर वैज्ञानिकों ने इसे नैचुरल टेस्टोस्टेरॉन बूस्टर माना है। शहरों में बहुत सारे लोग धूप से बचते नजर आते हैं, इसलिए शहरों की अपेक्षा गांवों में लोगों का टेस्टोस्टेरॉन लेवल ज्यादा बेहतर होता है। इसलिए रोज सुबह के समय जब धूप हल्की हो, तो थोड़ा समय धूप में बैठिए और एक्सरसाइज कीजिए।
अच्छी नींद लें, आराम ठीक से करें

शरीर के लिए नींद एक बहुत जरूरी फंक्शन है। लेकिन आजकल लोगों के सोने का रूटीन बहुत खराब हो चुका है। अच्छी सेहत के लिए जितना जरूरी हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज है, उतनी ही जरूरी है अच्छी नींद। एक रिसर्स के अनुसार जो लोग एक दिन में 4 घंटे या इससे कम सोते हैं, उनके टेस्टोस्टेरॉन लेवल में काफी हद तक कमी आ जाती है। इसी रिसर्च में बताया गया है कि प्रत्येक 1 घंटे की नींद आपके टेस्टोस्टेरॉन लेवल को लगभग 15% तक बढ़ाती है। इसलिए रोज सही समय से सोएं और गहरी नींद सोएं। एक दिन में 7 से 9 घंटे की नींद लेना जरूरी है।

Sunday, 17 May 2020

शीघ्रपतन की समस्या को कम करने की एक्सरसाइज “कीगल एक्सरसाइज”



शीघ्रपतन की समस्या को कम करने की एक्सरसाइज “कीगल एक्सरसाइज

क्‍या है कीगल एक्‍सरसाइज

जननांगों की एक्सरसाइज को कीगल एक्सरसाइज कहते हैं। इसको करने से पेल्विक एरिया (पी सी) की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है। जिससे यौन अंग प्रोत्साहित होते हैं। मजबूत पेल्विक मांसपेशियों पुरुषों और महिलाओं दोनों की यौन प्रतिक्रिया में एक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। कीगल एक्‍सरसाइज पुरुषों की समय पूर्व स्‍खलन की समस्‍या को कम करने और महिलाओं की श्रोणि की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में भी मदद करती है। डॉक्‍टर अर्नाल्ड कीगल ने इस एक्‍सरसाइज की खोज की है।

कीगल एक्‍सरसाइज कैसे काम करती है?

कीगल एक्‍सरसाइज पेल्विक एरिया में रक्त के प्रवाह में वृद्धि करके पेल्विक एरिया की मांसपेशियों को मजबूत रखता है। जिससे पेल्विक की संवेदनशीलता में तेजी आती है। यह अनुभूतियां उत्तेजना और आर्गेंज्‍म में मदद करती हैं।

कैसे करें कीगल एक्‍सरसाइज

पीसी मसल्‍स, पैरों के बीच पेल्विक के पास स्थित होती हैं। इसे करने के लिए अपने घुटनों को मोड़ कर आराम की स्थिति में बैठ जाए। अब आप ध्‍यान केंद्रित करके पीसी मसल्‍स को टाइट करके संकुचित करें। इसे 30 से 50 बार दोहराये। पूरी प्रकिया के दौरान स्‍वतंत्र रूप से सांस लें। इस एक्‍सरसाइज को करने के दौरान 5 सेकंड के लिए संकुचन करें और फिर 5 सेकंड के लिए आराम करें। धीरे-धीरे इस समय को बढ़ा कर 10 सेकंड कर दें।

सही तरीके से संकुचन करें

इस एक्‍सरसाइज को करने से पहले इस बात का ध्‍यान रखें कि इस प्रक्रिया में अपनी जांघें, हिप, पेट या अन्‍य मांसपेशियों को शमिल न हो। क्‍योंकि इससे आपके मूत्राशय पर दबाव पड़ता है। आप केवल पेल्विक एरिया की मांसपेशियों को संकुचित करें और सांस को रोकने से बचें।

ज्‍यादा न करें कीगल एक्‍सरसाइज

कीगल एक्‍सरसाइज को खाली जगह पर ही करें जैसे बेडरूम या बाथरूम। एक्‍सरसाइज के दौरान पेल्विक एरिया की मांसपेशियों को स्क्वीज करें और तीन की गिनती करके उसे रोकें। ध्‍यान रखें कि इस एक्‍सरसाइज को ज्‍यादा करने के लिए अपने आपको न धकेले, उतनी ही करें जितना आप आराम से कर सकते हैं। 

कीगल एक्‍सरसाइज के दौरान सावधानी

कीगल एक्‍सरसाइज को भरे हुए ब्‍लैडर या मूत्राशय के दौरान न करें, क्‍योंकि ऐसा करना आपकी मांसपेशियों को कमजोर कर सकता है और ब्‍लैडर को अधूरा खाली कर देता है। जिससे आपको यूरीन मार्ग में संक्रमण हो सकता है।

सेक्स लाइफ बेहतर

कीगल एक्‍सरसाइज करने से आपके यौन अंगों में रक्त के प्रवाह में सुधार होता है। जिससे पेल्विक एरिया की मसल्स मजबूत होती है और आपकी सेक्‍स जीवन में सुधार होता है। आप अधिक सुखद और आर्गेज्‍म की प्राप्ति आसानी से कर सकते हैं।

पूर्व स्‍खलन की समस्‍या

कीगल एक्‍सरसाइज से पुरुषों के हिप्स की मांसपेशियां मजबूत होती है। जिससे पुरुष जल्दी डिस्चार्ज होने की समस्या बच सकते हैं। और आप देर तक सेक्स को एंज्वॉय कर सकते हैं।

पेट कम करने में मददगार

कीगल एक्‍सरसाइज आपके पेट को कम करने में मदद कर सकता है। आप इस एक्‍सरसाइज को दिन में दो से तीन बार कर सकती है। इससे आपके पेट मांसपेशियों मजबूत होती है। यह एक्‍सरसाइज जमीन पर लेटकर भी की जा सकती है।



Thursday, 7 May 2020

लॉक डाउन में घर बैठे सेक्स पावर कैसे बढाये




लॉक डाउन में घर बैठे सेक्स पावर कैसे बढाये-


मालिश करना ( massage for libido ) 

मालिश करना व्यक्ति में कामेच्छा पैदा करने में मदद करता है। कनेक्शन मौजूद है। ऐसे मामले सामने आए हैं जब लोग नियमित अंतराल में मालिश की मदद से उच्च कामेच्छा ( sexual desire ) प्राप्त करने में सफल हुए हैं। दरअसल, मसाज करने से तनाव दूर होता है और मूड भी तारो-ताज़ा होता है।

सुबह की धूप लें ( Sunlights for better libido )

भारत के आयुर्वेद में लिखा हुआ है कि सुबह की किरणों में बहुत शक्ति होती है। सेक्स पावर को बढ़ाने के लिए यह एक दमदार उपाय है। यह सब विटामिन डी नामक एक छोटी सी चीज के लिए होता है, जिसे अक्सर सेक्स विटामिन कहा जाता है, जो हमें सूरज के संपर्क में आने से मिलता है। 

तनाव को कम करें 

क्या आपको पता है कि “आपका सबसे बड़ा यौन अंग आपका मस्तिष्क है,“। यहीं से कामुकता की भावना शुरू होती है। यदि आपका दिमाग ज्यादा व्यस्त और तनाव में रहता है तो इसका बुरा असर आपकी sex life पर पड़ता है।
तनाव ग्रस्त दिमाग सेक्स के दौरान विचलित होता है, और यह आपकी उत्तेजना, आनंददायक संवेदनाओं, या संभोग (sex intercourse) पर ध्यान केंद्रित करने में मुश्किल पैदा करता है। इसलिए जितना हो सके दिमाग को stress free रखें।

सेक्स पावर बढ़ाने के लिए व्यायाम 

ये तो आप जानते ही हैं कि workout करना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि जिम (व्यायाम) करने से आपको बेहतर सेक्स करने में भी मदद मिल सकती है ।एक सप्ताह में तीन से चार बार काम करना आपकी यौन शक्ति, लचीलेपन और धीरज में सुधार आता है,”
जब आपकी मांसपेशियां ढीली और लचीली होती हैं, तो आपके पास अच्छी सम्भोग की गति (speed) होती है, जिसका अर्थ है कि आप अधिक समय तक सम्भोग बिस्तर में कर सकते हैं।
Exercises  जो कामेच्छा और यौन स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं:- 

भार उठाने वाला व्यायाम 
अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए कुछ पुश-अप्स, सिट-अप्स और क्रंचेस करें। कुछ विशेषज्ञों का मानना ​​है कि strength training कामेच्छा को बढ़ा देता है
Strength training में मसल्स को मजबूत बनाने के लिए resistance, or weights का इस्तेमाल शामिल होता है। हैवी weight exercise करने से शरीर को Testosterone का उत्पादन करने में मदद मिलती है, जो एक हार्मोन हैं जिससे sex drive बढती है।

केगेल एक्सरसाइजेज (Kegel exercises) 
केगेल कसरतों के दौरान शरीर के निचले हिस्से यानी पेल्विक pelvic floor भाग की मांसपेशियों की कसरत होती है जिससे इस हिस्से का रक्त संचार ठीक रहता है।
कूल्हों के बीच का एक क्षेत्र है, जो मूत्राशय, छोटी आंत और मलाशय को सहारा देती है।
कुछ सूत्रों का कहना है कि केगेल व्यायाम, जो श्रोणि मंजिल ( pelvic floor ) की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है, पुरुषों और महिलाओं दोनों में कामेच्छा को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
आमतौर पर, इन अभ्यासों का उपयोग मूत्र रिसाव या आंत्र नियंत्रण जैसी समस्याओं को कम करने के लिए किया जाता है। लेकिन महिलाओं में, केगल्स better intercource के लिए योनि की मांसपेशियों को मजबूत कर सकते हैं।
पुरुषों में, ये अभ्यास स्खलन (ejaculation) में देरी करने में मदद कर सकते हैं।

तेज़ पैदल चलना 
हर दिन सिर्फ 30 मिनट पैदल चलने से पुरुषों में स्तंभन दोष ( Erectile Dysfunction ) की समस्या में 41% तक की कमी हो सकती है।
एक अलग परीक्षण ने संकेत दिया कि इस तरह के मध्यम व्यायाम से मध्यम आयु वर्ग के, मोटे पुरुषों में स्तंभन दोष ( Erectile Dysfunction ) को रोकने में मदद मिल सकती है।
तैरना (Swimming)
पैदल चलने के समान, केवल 30 मिनट के लिए तीन बार साप्ताहिक रूप से तैराकी करने से सेक्स ड्राइव ( sex drive ) को बढ़ावा मिल सकता है।
और तैराकी से वजन कम हो सकता है, जिससे कामुकता  में भी सुधार होता है।

योग से यौन शक्ति बढ़ाये 

क्या आप जानते हैं कि योग आपकी कामेच्छा (sexual desire) और आपके यौन जीवन (sexual life) को भी उत्तेजित करने में मदद कर सकता है?
2009 में हुए एक अध्ययन से पता चला है कि नियमित योग अभ्यास महिलाओं में यौन क्रिया के कई पहलुओं में सुधार करता है, जिसमें कामेच्छा, उत्तेजना, संभोग और पूर्ण संतुष्टि शामिल है।

ध्यान लगाना 
ध्यान ( Meditation ) एक सरल उपाय है, जो अगर हर दिन 10 मिनट के लिए किया जाये, तो आप तनाव से मुक्ति पा सकते है। आपका तनाव कम होगा तो sexual desire बढेगी। 
ध्यान का अभ्यास हजारों वर्षों से किया जाता रहा है, हम सभी जीवन में तनावपूर्ण परिस्थितियों का अनुभव करते हैं, जैसे कि किसी प्रियजन की मृत्यु, तलाक इत्यादि इन सभी को उच्च-तनाव का कारण माना जाता है। 

पद्‍मासन
पद्मासन करने से यौन समस्या दूर होने के साथ ही यौन शक्ति में बढ़ोतरी होती है। इसके नियमित अभ्यास से शरीर में उत्तेजना ( libido in hindi ) का संचार होता है, जिससे आप जल्द ही चरमसुख (ऑर्गेज्म पाने के उपाय) के आनंद तक पहुंच सकते हैं

भद्रासन
भद्रासन का sex life पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ता है। भद्रासन को रोज़ करने से सेक्स के दौरान धैर्य और एकाग्रता बढती है। इससे सेक्स के दौरान चरम सुख ( orgasm ) की अनुभूति होती है।
जिन लोगों को शीघ्रपतन की समस्या है, उन्हें भी इसका भद्रासन ज़रूर करना चाहिए, बहुत जल्द शीघ्रपतन (Premature ejaculation) से छुटकारा मिल सकता है।

धनुरासन
धनुरासन के नियमित अभ्यास करने से पुरुष और स्त्री दोनों की यौन शक्ति सुधरती है। यह कामेच्छा (Libido) को जगाने और संभोग क्रिया का समय बढ़ाने में सहायक है।
जिन लोगों को शीघ्रपतन (Premature ejaculation) की समस्या है उन्हें धनुरासन ज़रूर करना चाहिए।

आवश्यक खाद्य पदार्थ जिनके उपयोग से भी आप सेक्स सेक्स पावर बड़ा सकते है   
केला:
केले में विटामिन-एबीऔर सी होता है जो स्पर्म के उत्पादन को बेहतर करता है। केले में ब्रोमेलिन नामक एन्जाइम होता है जो एक नेचुरल एंटी-इंफ्लेमेट्री एंजाइम होता है जिससे स्पर्म काउंट और मोटिलिटी बूस्ट होता है। 
ब्रोकली:
ब्रोकली में फोलिक एसिड होता है जो पुरूषों की इन्फर्टिलिटी को दूर करने लिए आवश्यक होता है । रोजाना ब्रोकली का सेवन करना लगभग 70 प्रतिशत स्पर्म काउंट को बढ़ाता है ।
अनार:
अनार एक बेहतर विकल्प होता है जिससे स्पर्म काउंट बढ़ता है और साथ ही सिमेन की गुणवक्ता में भी सुधार लाता है । अनार में एंटीऑक्सीडेंट भी होता है जो ब्लड में होने वाले फ्री-रेडिकल्स से लड़ने में मदद करता है । इसके अलावा ये एक प्रकार का फर्टिलिटी बूस्टर भी होता है ।
लहसून:
लहसून इम्यूनिटी बूस्ट करता है । लहसून में पाए जाने वाला विटामिन-बीऔर सेलेनियम होता है जो शुक्राणु के उत्पादन को बढ़ाता है । इसके अलावा ये टेस्टीकल्स में ब्लड के संचार को भी बेहतर करता है ।
सूखे मेवे:
अखरोटबादाम और मुनक्का, अंजीर इन सभी को हर रोज़ सुबह ख़ूब चबाचबाकर खाएं और ऊपर से एक ग्लास दूध पियें इस प्रयोग से सेक्सुअल पावर बढ़ने के साथसाथ स्पर्म काउंट में भी वृद्धि होती है 
औषधि:
 शतावरअश्‍वगंधाकौंच बीजमूसली और गोखरू– सभी को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बनाकर रख लेंइसे 3 से 5 ग्राम की मात्रा में सुबहशाम दूध के साथ सेवन करेंयह नपुंसकता एवं यौन दुर्बलता को दूर करनेवाला उत्तम घरेलू नुस्ख़ा है साथसाथ स्पर्म की संख्या में भी वृद्धि होती है 
नियमित रूप से एक्सरसाइज़ करने वालों में सेक्सुअल सक्रियता बढ़ जाती है यानी अच्छी रहती हैवैज्ञानिकों का मानना है कि सेक्सुअल हेल्थ के लिए ज़रूरी सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरॉन की मात्रा एक्सरसाइज़ से बढ़ जाने के कारण ही ऐसा होता है 

अधिक जानकारी के लिए Dr.B.K.Kashyap से संपर्क करें 9305273775


Kashyap Clinic Pvt. Ltd.



Blogger:  https://drbkkashyap.blogspot.com/   

Justdial: https://www.justdial.com/Allahabad/Kashyap-Clinic-Pvt-Ltd-in-Civil-Lines/group

Website:  http://www.drbkkashyapsexologist.com/

Gmail: dr.b.k.kashyap@gmail.com

Fb: https://www.facebook.com/DrBkKasyap/

Youtube https://www.youtube.com/channel/UCE1Iruc110axpbkQd6Z9gfg

Twitter: https://twitter.com/kashyap_dr

Lybrate:  https://www.lybrate.com/allahabad/doctor/dr-b-k-kashyap-sexologist

Sehat :  https://www.sehat.com/dr-bk-kashyap-ayurvedic-doctor-allahabad

Linkdin: https://www.linkedin.com/in/dr-b-k-kashyap-24497780/?


पुरुष बांझपन (Male Infertility) कारण एवं उपचार

                                  पुरुष बांझपन (Male Infertility) कारण एवं उपचार- पुरुषों में इनफर्टिलिटी की समस्या के कारण वे पिता बनने के...