मंगलवार, 1 अक्तूबर 2013

सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य योनी में जलन तो करें यह उपाय-

सेक्‍स से जुड़े तथ्‍य योनी में जलन तो करें यह उपाय-- सेक्‍स जीवन का एक अहम हिस्‍सा होता है। बेहतर सेक्‍स लाईफ के लिए आप बेशक कई कोशिशें करती होंगी लेकिन फिर भी कुछ परेशानियां ऐसी होतीं हैं जो कि सेक्‍स लाईफ को बुरी तरह प्रभावित करतीं हैं। उसी तरह की समस्‍याओं में से एक है महिलाओं की योनी में जलन होना। योनी में जलन होने के बहुत सारे कारण हो सकतें हैं और इस समयस्‍या के चलते ठीक-ठाक स्‍वस्‍थ महिला भी सेक्‍स लाईफ का पूरी तरह आनंद नहीं उठा पाती है। साथ ही पार्टनर को भी इस परेशानी में शामिल होना पड़ता हैं। योनी में जलन होने का एक मुख्‍य कारण योनी का शुष्कता (सूखापन) होना है। योनी के शुष्क होने के कारण महिलाओं को सेक्‍स के दौरान बहुत परेशानी होती है और वो अपने पार्टनर का पूरी तरह सहयोग नहीं कर पाती है। यही नहीं कभी-कभी वो सेक्‍स करने से भी इंकार कर देती हैं। यदि आपको ऐसी परेशानी है तो हम आपके लिए कुछ सुझाव लेकर आयें हैं जिसपर अमल कर आप इस समस्‍या से कुछ हद तक बच सकतें हैं। ल्‍यूब्रीकेंट या वैसलीन का प्रयोग: यह एक बेहद ही पुराना और आसान तरीका है। योनी में सूखापन के कारण योनी के भीतर की त्‍वचा आपस में रगड़ होने से जलन पैदा करती है। इस दौरान यदि आप सेक्‍स करती हैं तो यह आपके लिए और भी ज्‍यादा असहनीय हो जाता है। इसके लिए आप क्रीम या फिर जेल का प्रयोग कर सकती हैं। यह क्रीम या जेल आजकल बाजार में आसानी से उपलब्‍ध है। यदि आप तत्‍काल बाजार से इसे नहीं खरीद सकती हैं तो त्‍वरीत प्रभाव के लिए आप बॉडी लोशन का भी प्रयोग कर सकती हैं। सेक्‍स के दौरान इंटरकोर्स करने से पूर्व योनी के भीतर हल्‍के हाथों से बॉडी लोशन को लगायें और ध्‍यान रखें कि इसके पूर्व अपने हाथों को ठीक प्रकार से धुलना ना भूलें। सेंटेड वॉश को दरकिनार करें: जैसा कि सभी जानतें हैं कि सेक्‍स के दौरान शरीर से आने वाली बेहतर खुश्‍बू सेक्‍स के प्‍लेजर को और भी बढ़ा देती है। इसके लिए कुछ महिलायें सेंटेड वॉश यानी की योनी के आस-पास सेंट का प्रयोग करती हैं। आपको बता दें कि भले ही यह आपके शरीर में खुश्‍बू का संचार करे लेकिन कभी-कभी यह नुकसानदेह भी होता है। सेंट में एल्‍कोहल का प्रयोग किया जाता है। जो कि योनी के त्‍वचा में जलन पैदा करता है। इसके अलावा नहाने के बाद टॉवेल का प्रयोग योनी पर हल्‍के हाथों से करें। डी हाइड्रेशन से बचें: डी हाइड्रेशन का सीधा मतलब है कि आपके शरीर में पर्याप्‍त मात्रा में पानी नहीं हैं जितना की शरीर को आवयशक्‍ता है। शरीर में पर्याप्‍त मात्रा में पानी न होने के कारण पेशाब का बनना भी कम हो जाता है। जिससे योनी का खुश्‍क होना सामान्‍य सी बात है। जिसके कारण योनी में जलन होता है। तो कोशिश करें कि ज्‍यादा से ज्‍यादा मात्रा में पानी पीयें और फ्रूट जूस आदि का सेवन करें। चिकित्‍सक से सलाह: यदि ऐसे घरेलु नुस्‍कों के बावजूद भी आपके योनी में जलन की समस्‍या खत्‍म नहीं हो रही है तो तत्‍काल चिकित्‍सक से इस बारें में परामर्श लेवें। यह कोई बड़ी समस्‍या नहीं हैं कई बार योनी में किसी तरह संक्रमण हो जाने के कारण भी योनी में जलन की समस्‍या सामने आती है। जो कि मामूली दवाओं आदि के सेवन से खत्‍म हो सकती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

धात गिरने की समस्या (धातुरोग) और समाधान

धात गिरने की समस्या (धातुरोग)और समाधान व्यक्तियों में बिना किसी से यौन संबंध बनायें वीर्य के अत्यधिक स्राव का होना धात गिरना, स्पर्मेटोरिया,...