मंगलवार, 1 अक्तूबर 2013

सेक्स: हमेशा रहें जवां!

सेक्स: हमेशा रहें जवां! अक्सर शादी के कुछ समय बाद या बेबी होने के बाद कपल्स को सेक्स लाइफ में कुछ ठहराव सा महसूस होने लगता है। आइए हम आपको बताते हैं कुछ टिप्स , जिनकी मदद से आपकी सेक्स लाइफ हमेशा जवां रहेगी : - केवल प्रचलित धारणाओं पर ही यकीन न करें। सेक्स में क्वॉन्टिटी से ज्यादा महत्वपूर्ण है इसकी क्वॉलिटी। अगर आप अपने पार्टनर के साथ ज्यादा से ज्यादा बार सेक्स करने की कोशिशों में जुटे हैं , तो हम आपको बता दें कि सच यह है कि एक सामान्य कपल हफ्ते में एक बार या इससे भी कम सेक्स करता है। - सेक्स से जुड़ी कई समस्याओं की वजह बेडरूम से बाहर भी हो सकती हैं। जो महिलाएं दिन में आराम कर पाती हैं। घर के कामों में दूसरों की मदद लेती हैं और बच्चों की सही देखभाल करती हैं , वे सेक्स में ज्यादा संतुष्ट रहती हैं। - महिलाओं की खराब बॉडी लैंग्वेज भी समस्या का कारण हो सकती है। अपना कॉन्फिडेंस बनाए रखें और सेक्स को पूरी तरह एंजॉय करें। चाहें तो वे खुद को फिट रखने के लिए ड्रामा या डांसिंग की क्लासेज अटेंड कर सकती हैं। - ज्यादातर महिलाएं शर्म की वजह से सेक्स को पूरी तरह एंजॉय नहीं कर पातीं। वे चाहकर भी पार्टनर के सामने अपनी इच्छाओं को एक्सप्रेस नहीं कर पातीं। आप चाहें , तो पहले बिना पार्टनर के रोमांटिक माहौल बनाकर अपनी इच्छाओं को जानें और फिर उन्हें पार्टनर के सामने एक्सप्रेस करें। - आजकल कॉन्डम नए सेक्स टॉय के रूप में सामने आया है। ये न सिर्फ ज्यादा देर तक सेक्स एंजॉय करने में मदद करते हैं , बल्कि अलग - अलग फ्लेवर में उपलब्ध होने की वजह से कुछ चेंज का ऑप्शन देते हैं। प्यार करते समय - सेक्स के बारे में बात सिर्फ सेक्स करते समय ही न करें। हर वक्त सही वक्त होता है। जब भी आप दोनों के पास फुर्सत के पल हों , आप इस पर बात कर सकते हैं। - सेक्स और प्यार में अंतर समझिए। प्यार आगे बढ़ते - बढ़ते सेक्स तक पहुंच सकता है। कोशिश करें कि इंटरकोर्स के अलावा एक दूसरे को सहलाने और मसाज जैसी चीजों को भी अच्छा - खासा समय दें। - स्टडीज से साबित हुआ है कि अल्कोहल लेने और सिगरेट पीने से न सिर्फ पुरुषों , बल्कि महिलाओं में भी कामेच्छा कम होती है। - ज्यादा शराब या सिगरेट पीना न सिर्फ आपकी सेक्स लाइफ को बर्बाद कर सकता है , बल्कि नर्वस सिस्टम को भी नुकसान पहुंचाता है। इसलिए कोशिश कीजिए कि इन चीजों का सेवन कम से कम करें। - अक्सर न्यूली मैरिड कपल ऑर्गेजम को लेकर प्रेशर में रहते हैं। उन्हें यह समझने की जरूरत है कि यह एक एक्सपीरियंस है ना कि कोई गोल। जरूरी नहीं है कि एक बार में दोनों पार्टनर ऑर्गेजम तक पहुंच जाएं। फिर भी अगर चाहते हैं कि लेडी पार्टनर ऑर्गेजम तक पहुंचे , तो सेक्स की शुरुआत से उसे एक्साइट करने की कोशिश करें। इससे उसे जल्दी आर्गेजम तक पहुंचने में आसानी होगी। - अगर आप फिजिकली और मेंटली दोनों तरह से फिट हैं , तभी अच्छी तरह सेक्स कर पाएंगे। इसलिए जरूरी है कि आप बेहतर डाइट के साथ रोजाना एक्सरसाइज व पूरी नींद लें। इस तरह आप सेक्स के दौरान बेहतर परफॉर्मेंस दे पाएंगे। तन - मन दोनों से जुड़िए - अपने पार्टनर के साथ शरीर के अलावा मन से भी जुड़ाव महसूस कीजिए। इससे आप सेक्स में अद्भुत आनंद अनुभव करेंगे। - सेक्सुअल ऐक्टिविटी के लिए ' एड्रनेलिन ' केमिकल बहुत जरूरी होता है। शरीर में इसकी मात्रा बढ़ाने की कोशिश कीजिए। अगर आप थके हुए या तनावग्रस्त हैं , तो अपनी पसंद का कोई काम कीजिए। मनपसंद मूवी देखिए या कॉफी का कप लेकर रिलैक्स कीजिए। - अक्सर लोग थकान की सोचकर सेक्स से कतराते हैं। जबकि सेक्स करने से थकान दूर होती है। फिर भी अगर आप काफी थके हुए हैं , पहले आराम और फिर सेक्स कीजिए। - अपने पार्टनर के साथ हर सेक्सुअल ऐक्टिविटी पर बात कीजिए। नए - नए ऐक्शंस के बारे में सोचिए। आप जितने ऐक्शंस की कल्पना कर सकते हैं , उन्हें एक कागज पर नोट करना अच्छा रहेगा। उसके बाद उनके आगे ओके , नॉट ओके और ट्राई लिखिए। कोशिश कीजिए की ओके वाले ऐक्शंस को आप रेग्युलर आजमाएं। - कई बार मन में फीलिंग आती है कि मैं सेक्सी नहीं लग रही हूं। इसके बावजूद आप सेक्स करना चाहती हैं , तो मन से ऐसी बातों को निकाल फेंकिए और निश्चिंत होकर सेक्स का मजा लीजिए। बच्चे के बाद - अगर आप पैरंट्स बन चुके हैं , तो आपकी सेक्स लाइफ और बेहतर हो जाती है। तमाम रिसर्च में सामने आया है कि एक बेबी होने के बाद नर्व्स ज्यादा ऐक्टिव हो जाती हैं और ऑर्गेजम की संभावना भी बढ़ जाती है। साथ ही बच्चा आपके बीच की इमोशनल फीलिंग्स को और मजबूत कर देता है , जिससे आप ज्यादा करीब आ जाते हैं। - ध्यान रहे , फोरप्ले किसी भी सेक्स रिलेशनशिप का सबसे जरूरी पार्ट है। अगर आप फोरप्ले के बाद सेक्स करते हैं , तो इसका मजा दोगुना हो जाएगा। - एक - दूसरे से बातचीत कीजिए। अक्सर यह देखा गया है कि अगर आप अपनी रिलेशनशिप के बारे में बात नहीं करते , तो यह जल्दी ही बोझिल रिश्ते में बदल जाता है। विश्वास कीजिए , यह तरीका आजमाने पर आपको जल्द चेंज नजर आएंगे। - कई पैरंट्स बच्चा होने के बाद सेक्स नहीं कर पाते। ऐसे में आपको इसे लेकर क्रेजी होना पड़ेगा। माना कि बच्चे के सामने सेक्स के कम मौके मिलते हैं , लेकिन समझदार पैरंट्स बच्चे के झपकी लेते वक्त भी एक - दूसरे को प्यार कर लेते हैं। - कभी भी सेक्स को रूटीन तरीके से ना करें। अगर सेक्स का पूरा लुत्फ उठाना चाहते हैं , तो जरूरी है कि आप कुछ ना कुछ एक्सपेरिमेंट करते रहें। उनकी चाहत पहचानें - महिलाओं को यह कतई पसंद नहीं होता कि पुरुष उनके शरीर के किसी एक अंग पर ध्यान फोकस करें। वह चाहती हैं कि आप उनकी पूरी बॉडी पर ध्यान दें। अगर आप ऐसा करते हैं , तो यकीन मानिए कि महिलाओं की ऑर्गेजम तक पहुंचने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। - अक्सर कुछ पुरुषों में पेनिस के साइज को लेकर हीन भावना होती है। ऐसे लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि पेनिस का एवरेज साइज पांच इंच होता है। उससे भी बड़ी बात यह है कि महिलाओं की वेजाइना में सिर्फ तीन इंच गहराई तक ही सेंसिटिविटी होती है। अगर आप उससे ज्यादा अंदर जाते हैं , तो वह वेस्टेज ही है। इसलिए अगर किसी के पेनिस का साइज छोटा है , तो उसके पार्टनर को खुश कर पाने के ज्यादा चांस है। - सपने देखिए। अगर आप सेक्स करते वक्त किसी और के बारे में सोचते हैं , तो इसमें कोई नुकसान नहीं। इस तरह आप अपने सेक्सुअल एक्सपीरियंस को और ज्यादा बेहतर बना सकते हैं। - बढ़ती उम्र के साथ सेक्स पर विराम मत लगाइए। स्वयं को सेक्सुअली फिट रखना एक चैलेंज होता है , इसका सामना कीजिए। बढ़ती उम्र का सामना करने के लिए फोरप्ले का वक्त बढ़ाइये। साथ ही आप उन पलों को भी याद कर सकते हैं , जब आप पहली बार मिले थे। - सेक्स आप दोनों को ज्यादा करीब लाता है। इससे आपके और आपके पार्टनर के दिल जुड़ने में मदद मिलती है।

कुछ समय बाद या बेबी होने के बाद कपल्स को सेक्स लाइफ में कुछ ठहराव सा महसूस होने लगता है। आइए हम आपको बताते हैं कुछ टिप्स , जिनकी मदद से आपकी सेक्स लाइफ हमेशा जवां रहेगी :

- केवल प्रचलित धारणाओं पर ही यकीन न करें। सेक्स में क्वॉन्टिटी से ज्यादा महत्वपूर्ण है इसकी क्वॉलिटी। अगर आप अपने पार्टनर के साथ ज्यादा से ज्यादा बार सेक्स करने की कोशिशों में जुटे हैं , तो हम आपको बता दें कि सच यह है कि एक सामान्य कपल हफ्ते में एक बार या इससे भी कम सेक्स करता है।

- सेक्स से जुड़ी कई समस्याओं की वजह बेडरूम से बाहर भी हो सकती हैं। जो महिलाएं दिन में आराम कर पाती हैं। घर के कामों में दूसरों की मदद लेती हैं और बच्चों की सही देखभाल करती हैं , वे सेक्स में ज्यादा संतुष्ट रहती हैं।

- महिलाओं की खराब बॉडी लैंग्वेज भी समस्या का कारण हो सकती है। अपना कॉन्फिडेंस बनाए रखें और सेक्स को पूरी तरह एंजॉय करें। चाहें तो वे खुद को फिट रखने के लिए ड्रामा या डांसिंग की क्लासेज अटेंड कर सकती हैं।

- ज्यादातर महिलाएं शर्म की वजह से सेक्स को पूरी तरह एंजॉय नहीं कर पातीं। वे चाहकर भी पार्टनर के सामने अपनी इच्छाओं को एक्सप्रेस नहीं कर पातीं। आप चाहें , तो पहले बिना पार्टनर के रोमांटिक माहौल बनाकर अपनी इच्छाओं को जानें और फिर उन्हें पार्टनर के सामने एक्सप्रेस करें।

- आजकल कॉन्डम नए सेक्स टॉय के रूप में सामने आया है। ये न सिर्फ ज्यादा देर तक सेक्स एंजॉय करने में मदद करते हैं , बल्कि अलग – अलग फ्लेवर में उपलब्ध होने की वजह से कुछ चेंज का ऑप्शन देते हैं।

प्यार करते समय

- सेक्स के बारे में बात सिर्फ सेक्स करते समय ही न करें। हर वक्त सही वक्त होता है। जब भी आप दोनों के पास फुर्सत के पल हों , आप इस पर बात कर सकते हैं।

- सेक्स और प्यार में अंतर समझिए। प्यार आगे बढ़ते – बढ़ते सेक्स तक पहुंच सकता है। कोशिश करें कि इंटरकोर्स के अलावा एक दूसरे को सहलाने और मसाज जैसी चीजों को भी अच्छा – खासा समय दें।

- स्टडीज से साबित हुआ है कि अल्कोहल लेने और सिगरेट पीने से न सिर्फ पुरुषों , बल्कि महिलाओं में भी कामेच्छा कम होती है।

- ज्यादा शराब या सिगरेट पीना न सिर्फ आपकी सेक्स लाइफ को बर्बाद कर सकता है , बल्कि नर्वस सिस्टम को भी नुकसान पहुंचाता है। इसलिए कोशिश कीजिए कि इन चीजों का सेवन कम से कम करें।

- अक्सर न्यूली मैरिड कपल ऑर्गेजम को लेकर प्रेशर में रहते हैं। उन्हें यह समझने की जरूरत है कि यह एक एक्सपीरियंस है ना कि कोई गोल। जरूरी नहीं है कि एक बार में दोनों पार्टनर ऑर्गेजम तक पहुंच जाएं। फिर भी अगर चाहते हैं कि लेडी पार्टनर ऑर्गेजम तक पहुंचे , तो सेक्स की शुरुआत से उसे एक्साइट करने की कोशिश करें। इससे उसे जल्दी आर्गेजम तक पहुंचने में आसानी होगी।

- अगर आप फिजिकली और मेंटली दोनों तरह से फिट हैं , तभी अच्छी तरह सेक्स कर पाएंगे। इसलिए जरूरी है कि आप बेहतर डाइट के साथ रोजाना एक्सरसाइज व पूरी नींद लें। इस तरह आप सेक्स के दौरान बेहतर परफॉर्मेंस दे पाएंगे।

तन – मन दोनों से जुड़िए

- अपने पार्टनर के साथ शरीर के अलावा मन से भी जुड़ाव महसूस कीजिए। इससे आप सेक्स में अद्भुत आनंद अनुभव करेंगे।

- सेक्सुअल ऐक्टिविटी के लिए ‘ एड्रनेलिन ‘ केमिकल बहुत जरूरी होता है। शरीर में इसकी मात्रा बढ़ाने की कोशिश कीजिए। अगर आप थके हुए या तनावग्रस्त हैं , तो अपनी पसंद का कोई काम कीजिए। मनपसंद मूवी देखिए या कॉफी का कप लेकर रिलैक्स कीजिए।

- अक्सर लोग थकान की सोचकर सेक्स से कतराते हैं। जबकि सेक्स करने से थकान दूर होती है। फिर भी अगर आप काफी थके हुए हैं , पहले आराम और फिर सेक्स कीजिए।

- अपने पार्टनर के साथ हर सेक्सुअल ऐक्टिविटी पर बात कीजिए। नए – नए ऐक्शंस के बारे में सोचिए। आप जितने ऐक्शंस की कल्पना कर सकते हैं , उन्हें एक कागज पर नोट करना अच्छा रहेगा। उसके बाद उनके आगे ओके , नॉट ओके और ट्राई लिखिए। कोशिश कीजिए की ओके वाले ऐक्शंस को आप रेग्युलर आजमाएं।

- कई बार मन में फीलिंग आती है कि मैं सेक्सी नहीं लग रही हूं। इसके बावजूद आप सेक्स करना चाहती हैं , तो मन से ऐसी बातों को निकाल फेंकिए और निश्चिंत होकर सेक्स का मजा लीजिए।

बच्चे के बाद

- अगर आप पैरंट्स बन चुके हैं , तो आपकी सेक्स लाइफ और बेहतर हो जाती है। तमाम रिसर्च में सामने आया है कि एक बेबी होने के बाद नर्व्स ज्यादा ऐक्टिव हो जाती हैं और ऑर्गेजम की संभावना भी बढ़ जाती है। साथ ही बच्चा आपके बीच की इमोशनल फीलिंग्स को और मजबूत कर देता है , जिससे आप ज्यादा करीब आ जाते हैं।

- ध्यान रहे , फोरप्ले किसी भी सेक्स रिलेशनशिप का सबसे जरूरी पार्ट है। अगर आप फोरप्ले के बाद सेक्स करते हैं , तो इसका मजा दोगुना हो जाएगा।

- एक – दूसरे से बातचीत कीजिए। अक्सर यह देखा गया है कि अगर आप अपनी रिलेशनशिप के बारे में बात नहीं करते , तो यह जल्दी ही बोझिल रिश्ते में बदल जाता है। विश्वास कीजिए , यह तरीका आजमाने पर आपको जल्द चेंज नजर आएंगे।

- कई पैरंट्स बच्चा होने के बाद सेक्स नहीं कर पाते। ऐसे में आपको इसे लेकर क्रेजी होना पड़ेगा। माना कि बच्चे के सामने सेक्स के कम मौके मिलते हैं , लेकिन समझदार पैरंट्स बच्चे के झपकी लेते वक्त भी एक – दूसरे को प्यार कर लेते हैं।

- कभी भी सेक्स को रूटीन तरीके से ना करें। अगर सेक्स का पूरा लुत्फ उठाना चाहते हैं , तो जरूरी है कि आप कुछ ना कुछ एक्सपेरिमेंट करते रहें।

उनकी चाहत पहचानें

- महिलाओं को यह कतई पसंद नहीं होता कि पुरुष उनके शरीर के किसी एक अंग पर ध्यान फोकस करें। वह चाहती हैं कि आप उनकी पूरी बॉडी पर ध्यान दें। अगर आप ऐसा करते हैं , तो यकीन मानिए कि महिलाओं की ऑर्गेजम तक पहुंचने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

- अक्सर कुछ पुरुषों में पेनिस के साइज को लेकर हीन भावना होती है। ऐसे लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि पेनिस का एवरेज साइज पांच इंच होता है। उससे भी बड़ी बात यह है कि महिलाओं की वेजाइना में सिर्फ तीन इंच गहराई तक ही सेंसिटिविटी होती है। अगर आप उससे ज्यादा अंदर जाते हैं , तो वह वेस्टेज ही है। इसलिए अगर किसी के पेनिस का साइज छोटा है , तो उसके पार्टनर को खुश कर पाने के ज्यादा चांस है।

- सपने देखिए। अगर आप सेक्स करते वक्त किसी और के बारे में सोचते हैं , तो इसमें कोई नुकसान नहीं। इस तरह आप अपने सेक्सुअल एक्सपीरियंस को और ज्यादा बेहतर बना सकते हैं।

- बढ़ती उम्र के साथ सेक्स पर विराम मत लगाइए। स्वयं को सेक्सुअली फिट रखना एक चैलेंज होता है , इसका सामना कीजिए। बढ़ती उम्र का सामना करने के लिए फोरप्ले का वक्त बढ़ाइये। साथ ही आप उन पलों को भी याद कर सकते हैं , जब आप पहली बार मिले थे।

- सेक्स आप दोनों को ज्यादा करीब लाता है। इससे आपके और आपके पार्टनर के दिल जुड़ने में मदद मिलती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

धात गिरने की समस्या (धातुरोग) और समाधान

धात गिरने की समस्या (धातुरोग)और समाधान व्यक्तियों में बिना किसी से यौन संबंध बनायें वीर्य के अत्यधिक स्राव का होना धात गिरना, स्पर्मेटोरिया,...