रविवार, 17 जुलाई 2016

यौन सुख को बढ़ाता है खुश्‍बूदार माहौल और खुश्‍बूदार कंडोम

यौन सुख को बढ़ाता है खुश्‍बूदार माहौल और खुश्‍बूदार कंडोम 



ज्‍यादातर दंपत्ति कंडोम से नफरत करते हैं। वो सोचते हैं कि कंडोम उनके संभोग के मजे को कम कर देता है। खास तौर से महिलाओं को लगता है कि कंडोम के बगैर संभोग का मजा ज्‍यादा है, यही कारण है कि कई बार महिलाएं कंडोम की वजह से सेक्‍स की चरमसीमा तक नहीं पहुंच पातीं। यदि आपके जीवन में ऐसा हो रहा है, तो एक उपाय हम आपको बता सकते हैं। वो उपाये है खुश्‍बूदार कंडोम। जी हां अगर आप खुश्‍बूदार कंडोम का इस्‍तेमाल करते हैं, तो न केवल सेक्‍स का मजा बढ़ जाता है, बल्कि यौन जीवन में परिर्वतन भी दिखाई दे सकते हैं। सबसे पहली बात यह कि फोरसेक्‍स के पहले पुरुषों के लिंग से एक तरह की महक उठती है, जो महिलाओं को संभोग के लिए उत्‍तेजित करती है। यह महक महिलाओं को काफी पसंद भी होती हैं। ऐसे में यदि आप फ्लेवर्ड कंडोम यानी खुश्‍बूदार कंडोम का इस्‍तेमाल करते हैं, तो वो आपकी पार्टनर को ज्‍यादा मजा दे सकता है। बाजार में कई प्रकार की खुश्‍बू वाले कंडोम बिकते हैं। इसलिए जब भी आप किसी फ्लेवर्ड कंडोम का इस्‍तेमाल करें तो अपनी पार्टनर से जरूर पूछें कि उन्‍हें कैसा लगा। यदि किसी फ्लेवर से वो इनकार करती है, तो उसे दोबारा मत लें। कई बार डॉटेड कंडोम कंडोम के चक्‍कर में पसंदीदा फ्लेवर नहीं मिल पाता है। इसके लिए आपको अपनी झिझक खत्‍म करनी होगी। जिस तरह साबुन-तेल खरीदते वक्‍त आप तमाम कंपनियों के प्रॉडक्‍ट देखते हैं, उसी तरह कंडोम खरीदते वक्‍त भी विभिन्‍न कंपनियों के बारे में पूछें। बेहतर होगा यदि आप बदल-बदल कर फ्लेवर लें, क्‍योंकि एक ही फ्लेवर से आपकी पार्टनर बोर हो सकती है। कुल मिलाकर फ्लेवर भी उसी प्रकार काम करता है, जिस तरह कुछ महिलाओं को केला अच्‍छा लगता है तो कुछ को स्‍ट्रॉबेरी या चॉकलेट। इसलिए पार्टनर का मूड बनाने के लिए उसकी पसंद का फ्लेवर ही लेकर जायें। 


Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Website-www.drbkkashyapsexologist.com

Gmail-dr.b.k.kashyap@gmail.com

Fb-https://www.facebook.com/DrBkKasyap/
  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टेस्टोस्टोरोन (सेक्स हॉर्मोन ) की कमी से पुरुषों में दिखते हैं ये लक्षण, न करें इन्हें नज़रअंदाज़

टेस्टोस्टोरोन (सेक्स हॉर्मोन) की कमी से पुरुषों में दिखते हैं ये लक्षण, न करें इन्हें नज़रअंदाज़ उम्र बढ़ने के साथ-साथ अक्सर पुरुषों में टेस्ट...