Thursday, 21 May 2020

टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढाने के प्राकृतिक (नैचुरल) उपाय


टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढाने के प्राकृतिक (नैचुरल) उपाय :

पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन का खास महत्व होता है। जानें इस हार्मोन को प्राकृतिक तरीकों से बढ़ाने के आसान तरीके। टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को पुरुषत्व का हार्मोन कहा जाता है। इसका कारण यह है कि यही वो हार्मोन है, जिसके कारण किसी व्यक्ति के शरीर में पुरुषों वाले बदलाव आते हैं। वैज्ञानिक इसे मेल सेक्स हार्मोन कहते हैं। महिलाओं में भी टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन पाया जाता है, मगर इसकी मात्रा बहुत कम होती है। ये हार्मोन पुरुषों के अंडकोष में बनता है।
एक पुरुष के जीवन में इस हार्मोन की हर उम्र में बड़ी भूमिका होती है। पुरुषों के शरीर में दाढ़ी उगाने, मसल्स में बदलाव, भारी आवाज, बालों के विकास, सेक्स क्षमता, कामुकता आदि सभी इस हार्मोन के द्वारा ही कंट्रोल होते हैं। अगर आपको भी लगता है कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन की कमी है, तो हम आपको बता रहे हैं इसे बढ़ाने के आसान प्राकृतिक उपाय, जो रिसर्च बेस्ड हैं, इसलिए आप इन पर भरोसा कर सकते हैं।

एक्सरसाइज और वजन उठाना

बड़े स्तर पर की गई एक स्टडी के आधार पर वैज्ञानिकों ने बताया है कि टेस्टोस्टेरॉन को बूस्ट करने का सबसे प्रभावी तरीका है- एक्सरसाइज। इसीलिए आपने देखा होगा कि जो लोग रेगुलर एक्सरसाइज करते हैं, उनके मसल्स, बॉडी के फीचर्स बेहतर हो जाते हैं और स्टैमिना बढ़ जाता है। रेजिस्टेंस ट्रेनिंग जैसे, वेट-लिफ्टिंग यानी भारी वजन उठाने से भी टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बूस्ट होता है।
प्रोटीन, फैट और कार्ब्स खाएं

आपके खानपान का भी आपके सेहत और टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन पर काफी प्रभाव पड़ता है। रिसर्च के अनुसार ओवर-ईटिंग से आपका टेस्टोस्टेरॉन लेवल कम होता है। वहीं प्रोटीनयुक्त हेल्दी चीजें खाने से फालतू जमा चर्बी कम हो जाती है, जिससे टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ता है। इसी तरह कार्ब और हेल्दी फैट्स का भी टेस्टोस्टेरॉन लेवल पर अच्छा प्रभाव देखा गया है। इसलिए आप अपनी डाइट में ऐसे फूड्स शामिल कीजिए, जिनमें फैट, प्रोटीन और कार्ब्स का बैलेंस हो, ताकि हार्मोन सही तरह से काम करें।
अश्वगंधा और अदरक है इस हार्मोन की प्राकृतिक दवा

वैसे तो बाजार में सैकड़ों दवाएं हैं, जो टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन को बढ़ाने का दावा करती हैं। लेकिन इनमें से साइंटिफिक रिसर्च में कुछ दवाएं ही कारगर पाई गई हैं। इन्हीं में से एक है अश्वगंधा। एक अध्ययन के अनुसार अश्वगंधा के सेवन से टेस्टोस्टेरॉन लेवल 17% और स्पर्म काउंट 167% तक बढ़ा हुआ पाया गया है। इसी तरह एक अन्य रिसर्च में अदरक के अर्क को भी टेस्टोस्टेरॉन को बूस्ट करने में प्रभावी पाया गया है। हालांकि अदरक पर हुई ज्यादातर रिसर्च जानवरों पर आधारित रही है। मगर अदरक के फायदों को देखते हुए आपको रोजाना के खानपान में इसे जरूर शामिल करना चाहिए।
धूप में बैठें, थोड़ा विटामिन D लें

12 महीने तक चले एक अध्ययन के आधार पर वैज्ञानिकों ने बाताया कि रोजाना थोड़ा समय धूप में बैठने से टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन के उत्पादन को 25% तक बढ़ाया जा सकता है। इसी आधार पर वैज्ञानिकों ने इसे नैचुरल टेस्टोस्टेरॉन बूस्टर माना है। शहरों में बहुत सारे लोग धूप से बचते नजर आते हैं, इसलिए शहरों की अपेक्षा गांवों में लोगों का टेस्टोस्टेरॉन लेवल ज्यादा बेहतर होता है। इसलिए रोज सुबह के समय जब धूप हल्की हो, तो थोड़ा समय धूप में बैठिए और एक्सरसाइज कीजिए।
अच्छी नींद लें, आराम ठीक से करें

शरीर के लिए नींद एक बहुत जरूरी फंक्शन है। लेकिन आजकल लोगों के सोने का रूटीन बहुत खराब हो चुका है। अच्छी सेहत के लिए जितना जरूरी हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज है, उतनी ही जरूरी है अच्छी नींद। एक रिसर्स के अनुसार जो लोग एक दिन में 4 घंटे या इससे कम सोते हैं, उनके टेस्टोस्टेरॉन लेवल में काफी हद तक कमी आ जाती है। इसी रिसर्च में बताया गया है कि प्रत्येक 1 घंटे की नींद आपके टेस्टोस्टेरॉन लेवल को लगभग 15% तक बढ़ाती है। इसलिए रोज सही समय से सोएं और गहरी नींद सोएं। एक दिन में 7 से 9 घंटे की नींद लेना जरूरी है।

No comments:

Post a Comment

डायबिटीज का यौन स्वास्थ (sex life)पर पड़ने वाला प्रभाव

                          डायबिटीज का यौन स्वास्थ  (sex health)पर पड़ने वाला प्रभाव- Diabetes and Sexual Health: डायबिटीज़ (Diabetes) एक हा...