शनिवार, 6 अगस्त 2016

महिला एवं पुरुष का स्पर्श भी सेक्स को उतेजित करने कि एक अच्छी प्रक्रिया है

महिला एवं पुरुष का स्पर्श भी सेक्स को उतेजित करने कि एक अच्छी प्रक्रिया है 




वैज्ञानिकों ने यह पता लगा लिया है कि आखिर क्यों इंसानों और जानवरों को सहलाया जाना भाता है। स्पर्श करने पर त्वचा में मौजूद विशेष तरह की संवेदी कोशिकाएं प्रतिक्रिया देती हैं। स्पर्श किए जाने का आनंद जानवर और इंसान दोनों लेते हैं लेकिन इसकी वजह अब तक अनजान थी। शोध में बताया गया कि त्वचा इंसानों के सबसे संवेदी अंग होते हैं और यह सुखद स्पर्श जैसे सहलाने और चूंटी काटने या जलने जैसे स्पर्श में भेद करते हैं। कैलिफोर्नया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के अनुसंधानकर्ताओं ने चूहों पर परीक्षण किया और पाया कि त्वचा में मौजूद विशिष्ट प्रकार के संवेदी न्यूरॉन सहलाए जाने पर प्रतिक्रिया देते हैं। अनुसंधानकर्ता डेविड एंडरसन ने कहा हमें उन न्यूरॉन के बारे में बहुत जानकारी है जो हमें ठेस का या दर्द महसूस कराते हैं लेकिन अब तक हमें उन न्यूरॉन की जानकारी नहीं मिल पाई थी जो सुखद अनुभव कराते हैं। वैज्ञानिकों की टीम 2007 में खोज किए गए संवेदी कोशिका की पडताल कर रही थी जिसकी भूमिका के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। स्पर्श करने पर त्वचा में मौजूद विशेष तरह की संवेदी कोशिकाएं प्रतिक्रियां देती हैं। 

Kashyap Clinic Pvt. Ltd.

Website-www.drbkkashyapsexologist.com

Gmail-dr.b.k.kashyap@gmail.com

Fb-https://www.facebook.com/DrBkKasyap/

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

टेस्टोस्टोरोन (सेक्स हॉर्मोन ) की कमी से पुरुषों में दिखते हैं ये लक्षण, न करें इन्हें नज़रअंदाज़

टेस्टोस्टोरोन (सेक्स हॉर्मोन) की कमी से पुरुषों में दिखते हैं ये लक्षण, न करें इन्हें नज़रअंदाज़ उम्र बढ़ने के साथ-साथ अक्सर पुरुषों में टेस्ट...