शुक्रवार, 9 फ़रवरी 2024

सेक्स के बाद महिलाओं में नजर आने वाले साइड इफेक्ट


                                     

सेक्स के बाद महिलाओं में नजर आएं ये लक्षण तो जरूर लें डॉक्टर से सलाह


1- योनि में जलन


सेक्स के बाद योनि में जलन महसूस होना किसी इंफेक्शन का संकेत हो सकता है। दरअसल, ल्यूब्रिकेशन की कमी, बर्निंग सेंसेशन का कारण बनने लगते हैं। वेजाइनल टिशूज में आने वाला खिंचाव भी जलन का कारण साबित होता है, जिसे पेनफुल सेक्स भी कहा जाता है। अगर लंबे समय तक इस तरह की समस्या परेशान कर रही है तो डॉक्टरी जांच करवाएं।
 

2- मसल क्रैंप्स


कुछ महिलाओं को सेक्स के बाद मांसपेशियों में ऐंठन बढ़ने लगती है। सेक्स के दौरान मसल्स में खिंचाव बढ़ने से हाथों, पैरों, काफ मसल्स और हिप्स में ऐंठन बढ़ जाती है। ऐसे में सेक्स से पहले पानी पीने से इस समस्या से बचा जा सकता है। इसके अलावा कुछ योगासनों को अभ्यास भी मसल्स क्रैंप के जोखिम को कम कर देते हैं।


3- वेजाइनल इचिंग


सेक्स के दौरान यीस्ट इंफे्क्शन और एसटीआई संक्रमण योनि में खुजली का कारण बन जाते हैं। इसके अलावा स्किन सेंसटीविटी और कण्डोम के इस्तेमाल से भी इचिंग की समस्या बढ़ने लगती है। ऐसी समस्या को दूर करने के लिए सेक्स के बाद वेजाइना को अवश्य क्लीन कर लें।
 

4- स्पॉटिंग


सेक्स के दौरान स्पॉटिंग होना सामान्य लक्षण नहीं है। वेजाइनल टिशू टियर होने या किसी प्रकार के इंफेक्शन से ग्रस्त होने से ये समस्या बढ़ने लगती है। अगर हर बार इस समस्या का सामना करना पड़ता है, तो डॉक्टरी जांच अवश्य करवाएं।


5- मूड स्विंग होना


सेक्स के बाद साइन ऑफ रिलीफ नज़र आता है। इसके बाद रोना और मूड सि्ंवग होना स्वाभाविक है। इसे हैप्पी टियर्स भी कहा जाता है। ऐसी स्थिति को पोस्ट कोईटल डिस्फोरिया कहा जाता है। इसके चलते महिलाएं अपनी भावनाओं को नियंत्रित नहीं कर पाती है। ऐसे में सेक्स के बाद मूड स्विंग होना और रोना पूरी तरह से सामान्य है।





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

धात गिरने की समस्या (धातुरोग) और समाधान

धात गिरने की समस्या (धातुरोग)और समाधान व्यक्तियों में बिना किसी से यौन संबंध बनायें वीर्य के अत्यधिक स्राव का होना धात गिरना, स्पर्मेटोरिया,...